तीन तलाक बिल पारित होना ऐतिहासिक कदम: सीएम वसुंधरा राजे

तीन तलाक को अपराध घोषित करने वाला बिल गुरुवार को लोकसभा में पास हो गया। विधेयक के खिलाफ ​विपक्ष के संशोधन भी खारिज हो गए हैं। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने गुरुवार को मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण) विधेयक 2017 के लोकसभा में पारित होने का स्वागत किया है। सीएम राजे ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार का यह एक ऐतिहासिक कदम है। उन्होंने कहा कि यह नारी सशक्तिकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।

news of rajasthan

                                  file-image: तीन तलाक बिल पारित होना ऐतिहासिक कदम: सीएम वसुंधरा राजे.

लोकसभा में बिल संशोधन का प्रस्ताव 241 मतों से खारिज हुआ

लोकसभा में चर्चा के दौरान एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी, कांग्रेस की सुष्मिता देव, माकपा के ए संपत और बीजद सांसद भर्तृहरि मेहताब ने बिल में संशोधन का प्रस्ताव दिया था। ओवैसी ने दो संशोधन पेश किए, जो खारिज हुए। ओवैसी का संशोधन प्रस्ताव दो वोटों के मुकाबले 241 मतों से खारिज हुआ। अब विधेयक को राज्यसभा में भेजा जाएगा। राज्यसभा में बिल पास होते ही तीन तलाक बिल पूरे देश में लागू हो जाएगा। विधेयक को विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने लोकसभा में पेश किया।

मुख्यमंत्री ने पीएम मोदी की बाड़मेर यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की: सीएम वसुंधरा राजे ने गुरुवार को होटल अलसीसर में आयोजित एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की 14 जनवरी, 2018 को प्रस्तावित बाड़मेर यात्रा की तैयारियों की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने सभा में आने वाले आमजनों के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं उपलब्ध कराने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। ख़बरों के अनुसार, पीएम नरेन्द्र मोदी 14 जनवरी को बाड़मेर के पचपदरा में रिफाइनरी का शुभारंभ करेंगे।

Read More: राजस्थान सरकार का बड़ा एलान: कांस्टेबल भर्ती में अधिकतम आयु सीमा में 3 साल की छूट

ये रहे बैठक में उपस्थित: होटल अलसीसर में आयोजित उच्चस्तरीय बैठक में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के अलावा मुख्य सचिव अशोक जैन, पुलिस महानिदेशक ओपी गल्होत्रा, अतिरिक्त मुख्य सचिव एनसी गोयल सहित कई वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.