अलवर के थानागाजी में हुए गैंगरेप मामले में पीड़िता को न्याय दिलाने संबंधी विभिन्न मांगों को लेकर दौसा से जयपुर कूच के लिए निकले राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा का प्रदर्शन हिंसक हो गया। मीणा के समर्थकों व पुलिस के बीच दौसा रेलवे स्टेशन पर लाठी-भाटा जंग छिड़ गई है जिसमें कई यात्री व महिला पुलिसकर्मी घायल हुए है। मीणा व हनुमाल बेनीवाल जैसे दिग्गज नेताओं की उपस्थिति में उनके समर्थकों ने रेलवे स्टेशन पर जमकर उत्पात मचाते हुए पत्थर फेंके। हिंसक प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा।

दौसा रेलवे स्टेशन पर एकाएक बिगड़ती स्थिति से अफरा-तफरी का माहौल हो गया और पुलिस ने किरोड़ीलाल मीणा को हिरासत में लिया। हिंसक प्रदर्शन के दौरान कई यात्रियों को चोटें आई और ज्यादातर ने स्टेशन से बाहर भागकर अपनी जान बचाई। हालांकि मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने स्थिति को जैसे-तैसे नियंत्रण में करके यात्रियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। प्रदर्शन से रेलवे ट्रेक जाम होने से कई ट्रेनें भी बाधित हुई है। किरोड़ीलाल मीणा का साथ देने पहुंचे राजेन्द्र राठौड़ और हनुमान बेनीवाल ने भी गहलोत सरकार पर जमकर निशाना साधा और उनसे इस्तीफे की मांग की।

उल्लेखनीय है कि अलवर गैंगरेप के मामले को भाजपा पुरजोर तरीके से उठाते हुए कांग्रेस सरकार पर आड़े हाथों ले रही है। इस मामले की गूंज अब राजस्थान ही नहीं बल्कि देशभर में सुनी जा रही है। लोकसभा चुनावों के मद्देनजर इस मुद्दे को लेकर भाजपा, कांग्रेस सरकार पर निशाना साधने से नहीं चूक रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here