news of rajasthan

आज 14 फरवरी यानि वैलेंटाइन्स डे है यानि प्यार के इज़हार का दिन। पिछले दो सालों से प्रदेशभर खासतौर पर स्कूलों में वैलेंटाइन्स डे नहीं मन पा रहा था लेकिन इस बार से प्रदेशभर में सिर्फ प्यार का इज़हार ही होगा। वजह है कि आज राज्यभर में पिछली सरकार का ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ नहीं मनाया जाएगा। दरअसल पिछली भाजपा सरकार ने 14 फरवरी को वैलेंटाइन्स डे की जगह मातृ-पितृ पूजन दिवस मनाने का फैसला लिया था। इसके तहत छात्रों के माता-पिता को इस दिन स्कूल में बुलाया जाता था और उनके बेटे-बेटी उनका सार्वजनिक रूप से सम्मान करते थे। लेकिन इस बार ऐसा नहीं होग इसकी एक वजह है।

वजह दरअसल यह है कि पाश्चात्य संस्कृति में डूबी हुई कांग्रेस सरकार इस दिन के भी पाश्चात्य संस्कृति के अनुसार ही मनाना चाहती है। यह वजह है कि 14 फरवरी को मातृ-पितृ पूजन दिवस को बदल पहले की तरह प्रदेशभर में वैलेंटाइन्स डे ही सेलिब्रेट होगा। सरकार में शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह दोतासरा ने राज्य के सरकारी स्कूलों में इस दिन पर ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ मनाने को नौटंकी करार देते हुए पूर्व के वसुंधरा राजे सरकार के इस फैसले को बदल दिया है।

इस संबंध में दोतासरा का कहना है कि स्कूलों में अब वैलेंटाइन्स डे पर ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ नहीं मनाया जाएगा। हमारी सरकार 14 फरवरी को ‘मातृ-पितृ पूजन दिवस’ मनाया जाए, ऐसा कोई निर्देश जारी नहीं करेगी। हमारी संस्कृति में माता-पिता और गुरु का दर्जा सबसे ऊंचा है इसलिए इनका सम्मान सिर्फ एक दिन नहीं बल्कि हमेशा ही होना चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here