झुंझुनूं: पीएम मोदी ने ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ योजना का किया विस्तार, राष्ट्रीय पोषण मिशन की शुरूआत

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज गुरुवार को राजस्थान के झुंझुनूं जिले के दौरे पर रहे। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने भारत सरकार के दो कार्यक्रमों की देशभर के 640 जिलों को समर्पित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने यहां ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान का विस्तार किया और राष्ट्रीय पोषण मिशन कार्यक्रम लॉन्च किया। प्रधानमंत्री मोदी अपने निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार दोपहर करीब 12 बजकर 50 मिनट पर झुंझुनूं पहुंचे। हेलीपैड पर उनका मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केन्द्रीय और राज्य मंत्रियों एवं क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों द्वारा जमकर स्वागत किया गया। इसके बाद पीएम मोदी ने ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान में शानदार काम करने वाले राज्य के टॉप 6 जिलों के जिला कलेक्टर्स के साथ संवाद किया। उन्होंने जिला कलेक्टर्स को आगे भी इसी तरह से काम करने के प्रेरित किया। प्रधानमंत्री ने स्वस्थ भारत के संकल्प के साथ राष्ट्रीय पोषण मिशन की राजस्थान के शेखावाटी अंचल से शुरुआत की।

news of rajasthan

Image: राजस्थान के झुंझुनूं में राष्ट्रीय पोषण मिशन कार्यक्रम की रिमोट दबाकर शुरूआत करते हुए पीएम नरेन्द्र मोदी.

समाज की कुरीतियों पर प्रधानमंत्री मोदी ने किए जमकर प्रहार

पीएम नरेन्द्र मोदी ने राजस्थान के झुंझुनूं आकर बेटियों को बचाने के लिए शुरू हुई मुहिम को आगे बढ़ाते हुए ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ योजना को देश के 640 जिलों में बढ़ाने का आगाज किया। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी की मौजूदगी में इन दो बड़ी योजनाओं को आगे बढ़ाते हुए पीएम मोदी ने समाज की कुरीतियों पर जमकर प्रहार किए। इससे पहले भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी में उनका राजस्थानी साफा पहनाकर स्वागत किया। परनामी ने केन्द्रीय मंत्री मेनका गांधी का चुनरी ओढ़ाकर स्वागत किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र ने अपने संबोधन की शुरूआत अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर देशवासियों को और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को उनके जन्मदिवस की बहुत-बहुत बधाई के साथ की। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने यहां राष्ट्रीय पोषण मिशन की रिमोट दबाकर शुरूआत की। उन्होंने कहा कि बाल विवाह भी कुपोषण का एक बड़ा कारण है। कुपोषण के खिलाफ हर सरकार में काम हुए हैं लेकिन देश में अभी भी कुपोषण व्याप्त है। उन्होंने कहा कि कुपोषण मिटाने के लिए हमें ईको-सिस्टम सुधारना होगा।

news of rajasthan

Image: प्रधानमंत्री मोदी ने ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ योजना का विस्तार, राष्ट्रीय पोषण मिशन भी लॉन्च किया.

‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत उत्कृष्ट कार्य करने वाले जिलों को किया सम्मानित

प्रधानमंत्री मोदी ने बेटियों की उप​लब्धियों पर गर्व करते हुए कहा कि आज बेटियां बोझ नहीं है, वे परिवार एवं देश की आन-बान और शान है। उन्होंने कहा कि बेटियों ने हमें ओलंपिक, अंतरिक्ष हर जगह गौरवान्वित किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बेटियों के लिए हमारे मन में गर्व का भाव होना जरूरी है। प्रधानमंत्री ने देश के विभिन्न जिलों को ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान के तहत उत्कृष्ट कार्य करने के लिए अलग-अलग कैटेगरी में सम्मानित किया। पीएम मोदी ने विभिन्न श्रेणी में राजस्थान का सीकर जिला, कर्नाटक का बीजापुर जिला, सिक्किम का नोर्थ सिक्किम जिला, पंजाब का तरनतारण जिला, हैदराबाद जिला, हरियाणा का सोनीपत जिला, गुजरात का अहमदाबाद जिला, जम्मू कश्मीर का उधमपुर जिला और बालिका शिक्षा क्षेत्र में राजस्थान के झुंझुनूं जिले को अवॉर्ड से सम्मानित किया। इसके बाद प्रधानमंत्री मोदी ने ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ अभियान की तीसरी वर्षगांठ के अवसर पर फोटो पुस्तिका का भी विमोचन किया।

Read More: राजस्थान के सभी किसानों का 50 हजार तक का कर्ज माफ होगा: सीएम राजे

बेटी पढ़ेगी तो देश, समाज और घर सशक्त होगा: सीएम वसुंधरा राजे

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संबोधन से पहले राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सभा को सबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटी पढ़ेगी तो देश, समाज और घर सशक्त होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में हमारी सरकार बेटियों के लिए राजश्री और पद्माक्षी सहित कई योजनाएं चला रही है। इन योजनाओं में मेधावी छात्राओं को प्रोत्साहित करने के लिए 1 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाती है। सीएम राजे ने कहा कि चार साल में हमारी सरकार ने मेधावी बेटियों को 43 हजार लैपटॉप, 9 हजार से अधिक स्कूटी और 11 लाख साइकिल वितरित की है। उन्होंने कहा कि झुंझुनूं देश के टॉप 10 जिलों में शामिल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि महिलाएं हर क्षेत्र में आगे बढ़ रही है। सीएम ने लोगों से विवाह में 8वां फेरा बेटी बचाने के लिए संकल्प के रूप में लेने की बात कही। उन्होंने बेटी के जन्म पर 111 पौधे लगाने के लिए संकल्प लेने के लिए भी कहा।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.