अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर वाला 100 रुपए का सिक्का आएगा जल्द

भारत सरकार की ओर से बाजार में जल्द ही एक और नया सिक्का लाया जा रहा है। यह सिक्का 100 रुपए का होगा और इस पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर नज़र आएगी। पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी की 95वीं जन्मतिथि पर भारत सरकार की तरफ से यह स्मारक सिक्का जारी करने की घोषणा की जा सकती है। सूत्रों के मुताबिक, इस संबंध में वित्त मंत्रालय ने सभी तैयारियां पूरी कर ली है। बीजेपी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार वाजेपयी की 95वीं जन्मतिथि के मौके पर इसे खास बनाने की तैयारी कर रही है। अटल बिहारी वाजपेयी का जन्म 25 दिसंबर 1924 को मध्य प्रदेश के ग्वालियर में हुआ था। वाजपेयी का इसी साल 93 वर्ष की आयु में 16 अगस्त, 2018 को निधन हो गया था।

news of rajasthan

File-Image: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी.

सिक्के पर देवनागरी और अंग्रेजी में लिखा जाएगा वाजपेयी का नाम

100 रुपए के इस नए सिक्के के एक ओर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तस्वीर होगी और दूसरी तरफ अशोक स्तंभ होगा। सिक्के के एक तरफ पूर्व प्रधानमंत्री का पूरा नाम देवनागरी और अंग्रेजी में लिखा जाएगा। वहीं तस्वीर के निचले हिस्से में वाजपेयी का जन्म वर्ष 1924 और देहांत का वर्ष 2018 अंकित किया जाएगा। इस सिक्के का वजन 35 ग्राम होगा। सिक्के की बांयी परिधि पर देवनागरी लिपि में भारत और दांयी तरफ अंग्रेजी में इंडिया लिखा जाएगा। इस स्मारक सिक्के को 100 रुपए के मूल्य वर्ग में रखा जाने की योजना है। ये सिक्का प्रचलन में नहीं आएंगे। इस सिक्के को 3300 से 3500 रुपये की प्रीमियम दरों पर बेचे जाने की उम्मीद है। वित्त मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार सिक्के का डिजाइन तैयार है और मुंबई टकसाल जल्द ही इसकी ढलाई का काम शुरू करने वाला है।

Read More: राजस्थान में 69 दिन बाद आदर्श आचार संहिता समाप्त, अब शुरू होंगे रुके हुए काम

100 रुपए का सिक्का इन धातुओं से बना होगा

बता दें कि 35 ग्राम वाले इस सिक्के में 50 प्रतिशत चांदी, 40 प्रतिशत तांबा, पांच प्रतिशत निकिल और पांच प्रतिशत जस्ता होगा। 100 रुपए की कीमत वाला यह सिक्का प्रचलन में नहीं आएगा। भारत सरकार सिक्के की बुकिंग के लिए समय तय करेगी। जानकारी के अनुसार इसे प्रीमियम दरों पर बेचा जाएगा। साथ ही यह सिक्का टकसाल से सीधे भी खरीदा जा सकेगा।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.