भीलवाड़ा: दलित बालिका गैंगरेप के तीनों आरोपी 12 घंटे के भीतर गिरफ्तार

भीलवाड़ा जिले के गुंदली गांव की नाबालिग दलित बालिका के साथ जबरन रेप करने वाले तीनों आरोपियों को पुलिस ने 12 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है। स्थानीय पुलिस ने मामलें को गंभीरता से लेते हुए रेप में शामिल तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सरकार राज्य में महिला अत्याचार और रेप की घटनाओं को लेकर बेहद गंभीर है। इसी का नतीजा है कि पुलिस ने गैंगरैप मामलें को गंभीरता से लेते हुए आरोपियों की त्वरित गिरफ्तारी की है। भीलवाड़ा एसपी प्रदीप मोहन शर्मा ने कहा कि, बागोर थानान्‍तर्गत 16 वर्षीय दलित पीड़िता की रिपोर्ट के 12 घंटे के भीतर ही तीनों आरोपी कैलाश गुर्जर, जगदीश और कन्‍हैया लाल गुर्जर को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी शर्मा ने आगे कहा कि, घटना के बाद बालिका को पहले बाल कल्याण समिति के पास ले जाया गया था। समिति की सुमन त्रिवेदी ने हमसे संपर्क किया। हमने प्राथमिकी दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। मजिस्ट्रेट के सामने जाने से पहले बालिका का बयान भी दर्ज किया गया है।

news-of-rajasthan

PC: amarujala

दो बार रेप करने का आरोप: गैंगरेप पीड़िता ने आरोपियों पर दो बार सामुहिक दुष्‍कर्म करने का आरोप लगाया है। बता दें कि भीलवाड़ा जिले के बागोर थानान्‍तर्गत गुंदली गांव निवासी 16 वर्षीय दलित पीड़िता 26 सितम्‍बर को विद्यालय में तबीयत खराब होने के कारण स्‍कुल से छुट्टी लेकर घर आ गई। कुछ समय आराम करने के बाद वह वापस घर से विद्यालय जा रही थी तभी रास्‍ते में मोटरसाइकिल पर कैलाश गुर्जर, जगदीश गुर्जर और कन्‍हैया लाल गुर्जर आए। उन्‍होंने बालिका से स्‍कूल तक छोड़ने की बात कही तो पीड़िता ने उन्हे मना कर दिया। इस पर कैलाश गुर्जर ने गर्दन पर चाकू लगाकर अपने दो सा​थियों की मदद से खेत में ले जा‍कर साथ दुष्‍कर्म किया। इसके बाद आरोपियों ने मोटरसाइकिल पर बिठाकर पास के गांव ले जाकर छोड़ दिया था।

Read More: सीएम राजे का मंत्रियों को आदेश, 13 दिसंबर से पहले हर जिले में जाकर करेंगे समस्याओं का समाधान

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.