न बटलर न स्टोक्स, कैसा होगा राजस्थान रॉयल्स व आरसीबी में आज नॉकआउट!

news of rajasthan

आज राजस्थान रॉयल्स का लीग का आखिरी आईपीएल मैच और वह भी घरेलू मैदान पर। इसका फायदा टीम को निश्चित तौर पर मिलेगा लेकिन मुश्किल डगर पर रॉयल्स के दो प्रमुख खिलाड़ी सलामी बल्लेबाज और टीम की रन मशीन जोस बटलर और आॅलराउंडर बेन स्टोक्स का मैच में न खेलना टीम के लिए एक बड़ा झटका है। इन दोनों खिलाड़ियों का चयन राष्ट्रीय टेस्ट टीम के लिए हो गया है और दोनों देश से रवाना हो चुके हैं। जोस बटलर अब तक टीम के लिए फिनिशर की भूमिका में हैं और पिछले कुछ मैचों में स्टोक्स गेंद से अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। प्लेआॅफ में पहुंचने की उम्मीदों को जगाए रखने के लिए राजस्थान रॉयल्स को हर हाल में रॉयल चैलेन्जर्स को हराना होगा लेकिन पिछले तीन मैचों में जीत के घोड़े पर सवार कोहली की टीम के खिलाफ ऐसा करना आसान न होगा।

रहाणे-त्रिपाठी-संजू की जोड़ी कर सकती है कमाल

राजस्थान रॉयल्स के शुरूआती मैचों में कप्तान अजिंक्य रहाणे ने ओपन किया है और यह प्रयोग सफल भी रहा है। अब जब बटलर नहीं है तो यह जगह रहाणे के लिए फिर खाली हो गई है। राहुल त्रिपाठी के साथ रहाणे ओपन करें और तीसरे नंबर पर संजू सैमसन आए तो यह टीम के लिए बेहतर होगा। तीनों उमेश यादव के फास्ट व युजवेंद्र चहल के स्पिन बोलिंग अटेक का आसानी से सामना कर सकते हैं। साउथ अफ्रिका के रेगुलर विकेटकीपर हेनरिक क्लासन को बटलर की अनुपस्थिति में मौका मिल सकता है। रहाणे के साथ ओपन इनसे भी कराया जा सकता है। शॉर्ट के अब तक के प्रदर्शन को देखते हुए उन्हें प्लेइंग 11 में जगह मिलनी थोड़ी मुश्किल है।

बिन्नी कर सकते हैं शुरूआत, सोढ़ी की भूमिका अहम

स्टोक्स की गैर-मौजूदगी में बिन्नी से गेंदबाजी की शुरूआत कराई जा सकती है। बिन्नी पिछले सीज़न में ऐसा कर चुके हैं। ऐसे में मुख्य गेंदबाजों को डेथ ओवर्स के लिए बचाया जा सकता है। जोफ्रा आर्चर व सोढ़ी को ट्रंप कार्ड की तरह इस्तेमाल करना होगा। के.गौतम व श्रेयस गोपाल का स्पिन बॉलिंग अटेक कारगर हो सकता है। विराट कोहली व एबी डिविलियर्स के लिए सोढ़ी, जयदेव उनादकट या धवल कुलकर्णी को अपनी भूमिका निभानी होगी।

दोनों टीमों के लिए सेमीफाइनल मैच

राजस्थान रॉयल्स और आरसीबी दोनों के लिए यह मैच एक सेमीफाइनल नॉकआउट मैच होगा। दोनों टीमों के 13 मैच में 12 पॉइंट है। आसीबी 5वें और रॉयल्स छठें स्थान पर है। मुंबई इतने ही पॉइंट के साथ चौथे नंबर पर है। अगर कोई भी टीम लीग का अंतिम मैच हारती है तो वह सीधे तौर पर बाहर हो जाएगी। अगर जीत उनके खाते आती है तो रनरेट के हिसाब से फैसला होगा। अभी 4 टीमों के 12-12 अंक हैं। ऐसे में सभी टीमें जीत हासिल करने के लिए जीतोड़ प्रयास करेंगी।

मुंबई इंडियंस से सबक ले सकते हैं रॉयल्स

मुंबई इंडियंस और पंजाब के बीच हुए आखिरी मैच में मुंबई का स्कोर 11 ओवर में 83/4 था। कुछ ऐसा स्कोर चेन्नई के खिलाफ राजस्थान रॉयल्स का था। टीम का स्कोर 11 ओवर में 96/3 था। लेकिन मुंबई ने इसके बाद 20 ओवर में 188 रन बनाए और मैच 5 रन से जीत लिया। लेकिन राजस्थान 19वें ओवर में 143 रन पर आॅलआउट हो गई। रॉयल्स चाहें तो मुंबई इंडियंस से सबक ले सकती हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.