प्रदेश में 2500 सरकारी स्कूल बने फाइव स्टार: शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी

राजस्थान में वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली वर्तमान भाजपा सरकार ने स्कूली शिक्षा पर विशेष फोकस किया है, जिसका परिणाम अब दिखने लगा है। कुछ वर्षों पहले तक स्कूली शिक्षा के मामले में प्रदेश जहां देश के अंतिम राज्यों की कतार में खड़ा था, वहीं आज राजे सरकार के प्रयासों से दूसरे नंबर पर आ गया है। राज्य के शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि पिछले पौने पांच सालों में राजस्थान की शिक्षा ने एतिहासिक प्रगति हासिल की है। इन सालों में बोर्ड परीक्षाओं का परिणाम 57 प्रतिशत से बढकर अब 80 प्रतिशत तक पहुंचने लगा है। शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने कहा कि राजस्थान के 14 हजार में से 2500 स्कूलों ने औसत परीक्षा परिणाम से अधिक परिणाम दिया है। इन सभी स्कूलों को फाइव स्टार स्कूल के रूप में सम्मानित किया जा रहा है।

news of rajasthan

Image: शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी.

शिक्षा के क्षेत्र में हम 26वें से दूसरे स्थान पर पहुंचे

शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में पिछले पौने पांच साल में राजस्थान ने अभूतपूर्व तरक्की की है। शिक्षा के क्षेत्र में हम 26वें से दूसरे स्थान पर आ गए हैं। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकाल में राजस्थान के स्कूलों ने एक नई करवट ली है। अब स्कूलों को स्टार रेटिंग दी जा रही है। औसत परिणाम से ज्यादा परिणाम देने वाले राज्य के ढाई हजार स्कूलों को फाइव स्टार स्कूल के रूप में सम्मानित किया जा रहा है। देवनानी ने कहा कि अजमेर जिले में 99 स्कूलों ने फाइव स्टार रेटिंग हासिल की है। राजस्थान के स्कूलों में 3500 करोड़ रुपए के विकास कार्य कराए गए हैं। अजमेर शहर के स्कूलों में 15 करोड़ के निर्माण कार्य हुए हैं। आजादी के बाद पहली बार स्कूलों में एक साथ इतने काम करवाए गए हैं।

राज्य में एक लाख शिक्षकों की भर्ती के साथ ही सवा लाख शिक्षकों को दी पदोन्नति

शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने कहा कि पिछले पौने पांच साल में स्कूलों में विद्यार्थियों के लिए सुविधाओं का तो विस्तार हुआ ही, हमने शिक्षकों की समस्याओं का भी समाधान किया है। राज्य में एक लाख शिक्षकों की भर्ती के साथ ही करीब सवा लाख शिक्षकों को पदोन्नति दी गई है। राज्य में शिक्षा विभाग के कैडर को बढ़ाया गया है। शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने अजमेर में  कक्षा-कक्षों व भारत दर्शन गलियारे का लोकार्पण किया। कार्यक्रम में संभाग, जिला एवं 6 ब्लॉक स्तर शिक्षकों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर महापौर धमेन्द्र गहलोत, जिला शिक्षा अधिकारी श्याम सांगावत सहित बड़ी संख्या में शिक्षक उपस्थित थे।

Read More: राजस्थान: किसानों के लिए खुशखबरी, मूंग एवं उड़द की खरीद के लिए आॅनलाइन पंजीयन प्रारम्भ

उजियारी ग्राम पंचायतों ने फैलाया शिक्षा का उजियारा

शिक्षा राज्य मंत्री देवनानी ने मंगलवार को अजमेर जिले की ड्रॉप आउट फ्री उजियारी ग्राम पंचायतें का सूचना केन्द्र में आयोजित जिला स्तरीय सम्मान समारोह में कहा कि उजियारी ग्राम पंचायतों ने शिक्षा का उजियारा प्रत्येक बालक तक पहुंचाया है। समारोह में मंत्री देवनानी एवं जिला कलक्टर आरती डोगरा ने जिले की 106 उजियारी ग्राम पंचायतों के सरपंचों एवं पंचायत शिक्षा अधिकारियों को सम्मानित किया। शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने कहा कि वर्तमान सरकार द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में कई नवाचार किए है। उजियारी ग्राम पंचायत भी उसी में से एक है। सरकार के द्वारा प्रत्येक स्कूल जाने योग्य बालक को विद्यालय से जोड़ने का संकल्प लिया। इसी का परिणाम उजियारी ग्राम पंचायत के रूप में सामने आया है।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.