लोकसभा चुनाव को लेकर प्रदेशभर में सरगर्मियां तेज हो चुकी है। कांग्रेस-भाजपा ने जमीनी स्तर पर तो तैयारियां तेज कर ही दी है साथ ही मरूधरा में चुनावी रैलियों का मौसम भी शुरू हो चुका है। इसी बीच एक भविष्यवाणी से कांग्रेस खेमा दुखी है तो भाजपाईयों में खुशी की लहर है।

देशभर में मशहूर फलोदी के सट्टा बाजार से भाजपा के लिए ये अच्छी खबर आई है। फलोदी सट्टा बाजार ने लोकसभा चुनाव में भाजपा के 18सीटें जीतने का दावा किया है। वहीं, कांग्रेस को मात्र सीटें फलोदी का सट्टा बाजार दे रहा है। सट्टे बाजार की इस भविष्यवाणी से न केवल कांग्रेसी खेमा बल्कि सियासी गलियारों में भी चर्चा है।

राजस्थान के इतिहास को देखा जा जाए तो अब तक मरूभूमि में जिस पार्टी की सत्ता होती है उसी पार्टी को सबसे ज्यादा सीटें मिलती है। लेकिन, सट्टे बाजार के अनुमान के बाद कांग्रेसी खेमे सहित सियासतदारों के बीच चर्चाओं का बाजार गर्म है। राजनीतिक पंडित इस अनुमान को सही मान रहे हैं, उनका कहना है कि मोदी की लोकप्रियता अभी भी चरम पर है। ऐसे में भाजपा को 18 से ज्यादा सीटें भी मिल सकती है।

वहीं, कांग्रेसी नेताओं का मानना है कि ये शुरुआती भाव है। इसमें अभी बदलाव होगा और हम सभी 25सीटों पर जीत दर्ज कर इतिहास रचेंगे। खैर, सट्टे बाजार के इस अनुमान ने कांग्रेसी खेमे में चिंता बढ़ा दी है तो, भाजपाईयों में नई ऊर्जा और ताकत का संचार करने का काम किया है। अगर ये आंकड़े सही साबित होते हैं तो वर्षों पुराना विधानसभा जीत के बाद लोकसभा में बढ़त का मिथक भी टूट जाएगा।

Read more: गहलोत-पायलट के पहले आप, पहले आप के मजाक में राजस्थान में भड़की गुर्जर आरक्षण की आग

LEAVE A REPLY