news of rajasthan
शशि थरूर के साथ दिव्या स्पंदना।
news of rajasthan
शशि थरूर के साथ दिव्या स्पंदना।

देश के 5 राज्यों में आगामी विधानसभा चुनावों की तिथि जैसे-जैसे करीब आ रही है, कांग्रेस की तरह से ओछी हरकतों का गुबार भी उमड़-उमड़ कर बाहर आ रहा है। अपने तीखे स्वर और अपनी ओछी हरकतों के आगे राहुल गांधी की नेतृत्व वाली पार्टी यह तक भूल चुकी है कि किसी का सम्मान या आदर करना क्या होता है। हाल ही में कांग्रेस नेता शशि थरूर ने पार्टी व प्रधानमंत्री को बिच्छू कहते हुए एक विवादित बयान दिया था। अब उन्हीं के पदचिन्हों पर चलते हुए कांग्रेस की सोशल मीडिया प्रमुख दिव्या स्पंदना ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर पर एक विवादित टिप्पणी की है।


असल में मामला 31 अक्टूबर का है जब सरकार वल्लभाई पटेल की 143वीं जयंती पर प्रधानमंत्री मोदी ‘स्टेच्यू आॅफ यूनिटी’ का निरीक्षण कर रहे थे। सरदार पटेल की यह प्रतिमा 182 मीटर ऊंची है। स्पंदना ने इस प्रतिमा के पैरों के पास खड़े प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर के साथ टिप्पणी करते हुए लिखा, ‘क्या यह किसी पक्षी की बीट है?’ उसके बाद यह टिवट जमकर वायरल हो रहा है और कुछ लोगों ने स्पंदना की जमकर खिंचाई की है।


इस ट्वीट के बारे में पूछे जाने पर भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने जवाब देते हुए कहा है, ‘कांग्रेस पार्टी की यह वास्तविक संस्कृति है। देश के प्रधानमंत्री को गाली देने का वे कोई मौका नहीं छोड़ते। यह वही पार्टी है जिसने प्रधानमंत्री के लिए अपशब्द कहे थे। कांग्रेस नेता शशि थरूर ने उन्हें एक बिच्छू और अब दिव्या स्पंदना का कहना है कि वह पक्षी की बीट हैं।’ पात्रा ने यह भी कहा, ‘यह कुछ नहीं है लेकिन अपनी कड़ी मेहनत से देश का प्रधानमंत्री बनने वाले एक आम भारतीय के लिए कांग्रेस पार्टी की ओर से यह अहंकार की भाषा है। एक आम भारतीय उन्हें पक्षी की बीट दिखाई देता है जबकि एक वंशवाद उनके लिए सत्ता का केन्द्र है।’

Read more: फेसबुक के जरिए कांग्रेसी नेताओं के मनमुटाव को गलत बताने की कोशिश में राहुल गांधी

LEAVE A REPLY