अलवर में पति के सामने विवाहिता के साथ हुए गैंगरेप के बाद विपक्षी दल भाजपा लगातार विरोध-प्रदर्शन कर गहलोत सरकार को घेरने में लगी हुई है। मुख्य रूप से सांसद किरोड़ीलाल मीणा गहलोत सरकार के खिलाफ जमकर बयानबाजी कर रहे हैं। इसी बीच मंगलवार दोपहर को राज्यसभा सांसद किरोड़ीलाल मीणा अपने समर्थकों के साथ दौसा से जयपुर की ओर कूच करेंगे, उससे पहले मीणा ने सभा को संबोधित भी किया।

किरोड़ीलाल मीणा की मुख्य मांग यह है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को बर्खास्त किया जाए, पीड़िता को 50 लाख रु की आर्थिक सहायता दी जाए, दोषी पुलिसकर्मियों पर आईपीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज हो तथा गैंगरेप मामले की सीबीआई जांच हो। मीणा के जयपूर कूच को लेकर पुलिस प्रशासन ने पर्याप्त जाब्ते की तैनाती की है। गौरतलब है कि थानागाजी (अलवर) गैंगरेप मामले की गूंज प्रदेश ही नहीं बल्कि देशभर में गूंज रही है। खुद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी सभाओं के दौरान इस मामले को लेकर बसपा सुप्रीमो मायावती और राज्य की कांग्रेस सरकार पर निशाना साधने से नहीं चूक रहे हैं।

सोमवार को गुजरात से विधायक व दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने भी अपने समर्थकों के साथ पुलिस मुख्यालय की ओर कूच कर ज्ञापन सौंपा था। अलवर गैंगरेप मामला लोकसभा चुनाव में सियासी रूप ले चुका है। भाजपा समेत अन्य दल गहलोत सरकार के खिलाफ लामबंद हो रखे हैं। वहीं गैंगरेप के आरोपियों की पैरवी करने के लिए भी अलवर जिला बार एसोसिएशन ने इंकार कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here