राजस्थान में सत्ता में आने के बाद कांग्रेस सरकार के मंत्री व विधायक आए दिन अपनी बयानबाजी के कारण चर्चा में रहते हैं। अशोक चांदना, दिव्या मदेरणा के बाद अब लालचंद कटारिया ने अपने बयान से प्रदेश की राजनीति में तूफान ला दिया है। दरअसल पूर्व केन्द्रीय मंत्री व गहलोत सरकार के वर्तमान मंत्री लालचंद कटारिया ने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए सबूत देने की मांग की है। गुरुवार को झोटवाड़ा विधायक लालचंद कटारिया ने कहा कि एयर स्ट्राइक में मारे गए 300 लोगों का कुछ वीडियो तो दो, कितने आतंकवादी मारे गए ये कौन गिनने गया था। मरने वालों के भी मां-बाप होंगे, बताओ तो कहां दफनाए गए। इतना ही नहींं मंत्री ने कहा कि जनता को सरकार के दावों पर आशंका होने लगी है, भाजपा नेताओं को सबूत देकर अपने दावों को पुख्ता करना चाहिए।

कटारिया ने आगे कहा कि मैं शहीदों की शहादत को सलाम करता हूं और मुझे हमारे सैनिकों पर गर्व है। लेकिन सेना के शौर्य पर राजनीति करने से भाजपा नेताओं को बाज आना चाहिए। गौरतलब है कि पीएम मोदी समेत तमाम भाजपा नेता एयर स्ट्राइक को अपनी सफलता बता रहे हैं, वहीं कांग्रेस सहित अन्य पार्टियां इसके सबूत मांग रही है। एयर स्ट्राइक के बाद से भाजपा के पक्ष में अच्छा खासा माहौल बन रहा है और इस पर सबूत मांगकर कांग्रेस की किरकिरी हो रही है। ऐसे में लोकसभा चुनाव से पहले आतंकियों के मौत के आंकड़ों पर मंत्री लालचंद कटारिया का बयान, प्रदेश की राजनीति में भूचाल लाने वाला है।

LEAVE A REPLY