news of rajasthan
विश्व पोलियो दिवस
news of rajasthan
विश्व पोलियो दिवस

आज विश्व पोलियो दिवस है। प्रत्येक वर्ष 24 अक्टूबर को विश्व पोलियो दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस दिवस का ध्येय है पोलियो जैसी बीमारी के विषय में लोगों में जागरूकता फैलाना। यह एक भयावह बिमारी है है जिसे अपंगता या पंगू कहा जा सकता है। पोलियो एक संक्रामक बीमारी है, जो पूरे शरीर को प्रभावित कर देती हैं और यह बीमारी बच्चों में अधिक होती है। विश्व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन नामक संस्था बड़े पैमाने पर इस बिमारी से लड़ रहा है और दुनियाभर से पोलियो को जड़ से उठा फैकने के लिए प्रयासरत हैं। इस बिमारी की भयानकता केवल इस बात से पता लगाई जा सकती है कि जब तक एक भी बच्‍चा पोलियो से ग्रस्‍त है, दुनियाभर में इस बीमारी के फैलने का खतरा बरकरार है।

Read more: यह राजस्थान की भाजपा सरकार है, यहां हर जुर्म की सजा मुकर्रर है …


वर्ष 1988 में विश्व के 125 देशों में पोलियो ग्रस्‍त लोग थे लेकिन अब यह बिमारी को काबू में है। कई देशों को पूरी तरह पोलियो मुक्त घोषित किया जा चुका है जिनमें भारत भी एक है। पिछले तीन सालों में देश में एक भी पोलियो ग्रसित व्यक्ति नहीं दिखा लेकिन खतरा अभी भी बरकरार है। मरीज की स्थिति वायरस की तीव्रता पर निर्भर करती है। अधिकतर स्थितियों में पोलियो के लक्षण फ्लू जैसी ही होते हैं लेकिन लक्षण सामान्य हैं।

भारत सरकार ने अमिताभ बच्चन के चेहरे के साथ ‘दो बूंद जिंदगी की’ से लंबे समय तक पोलियो मुक्त देश अभियान पर काम किया है।

वर्ष 2013 में दुनिया के केवल तीन देशों में पोलियो के मामले सामने आए हैं। उक्त तीन देश हैं ..

  • अफगानिस्तान
  • नाइजीरिया और
  • पाकिस्‍तान

यानि पिछले 25 सालों में पोलियो ग्रसित राष्ट्रों की संख्या 125 से गिरकर केवल 3 पर आ थमी है लेकिन स्थिति अब भी गंभीर है। अगर विश्व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन इन देशों से पोलियो को नहीं मिटा पाया तो अगले 10 सालों के भीतर हर वर्ष पोलियो के दो लाख नए मामले सामने आ सकते हैं।

पोलियो का खतरा

  • दूषित पानी का सेवन से पोलियो का खतरा होता है।
  • गंदे पानी में तैरने से भी पोलियो वायरस का संक्रमण हो सकता है।
  • युवाओं की तुलना में बच्चों में इस बीमारी के फैलने की संभावना अधिक होती है।

पोलियो की रोकथाम

  • बच्चे को पोलियो ड्राप पिलाना ना भूलें
  • अपने आसपास सफाई रखें
  • पौष्टिक आहार लें

पोलियो के लक्षण:

  • पेट दर्द
  • उल्टियां आना
  • गले में दर्द
  • सिरदर्द
  • जटिल स्‍थितियों में हृदय की मांस पेशियों में सूजन भी आ सकती हैं

पोलियो जैसी बीमारी व्यक्ति के संपूर्ण जीवन को प्रभावित करती है, इस बीमारी के प्रति जागरूक रहें और बच्चों का समय पर टीकाकरण ज़रूर करायें।

Read more: राजनीति की चौसर पर ‘केबीसी’ की बिसात बिछाते हुए कांग्रेस

LEAVE A REPLY