हमने प्रदेश में शिक्षा की तस्वीर बदली, जल्द ही बनेंगे नंबर वन: शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी

राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार ने पिछले साढ़े चार साल में शिक्षा के क्षेत्र में कई नवाचार किए हैं। इसका नतीजा यह रहा कि चार साल पहले स्कूली शिक्षा में सबसे पिछड़े राज्यों में से एक रहा राजस्थान आज देश में दूसरे स्थान पहुंच गया है। यह सब मुख्यमंत्री वसुंधरा के राज्य में शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए किए गए प्रयासों की बदौलत हो पाया है। प्रदेश के शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि राजस्थान की शिक्षा पूरे देश में रोल मॉडल बन गई है। स्कूलों में भौतिक संसाधनों का विस्तार, शिक्षकों की समस्याओं का समाधान, नई भर्तियों तथा भविष्यगामी पाठ्यक्रम ने शिक्षा में नई ऊर्जा का संचार किया है। उन्होंने कहा कि आज अभिभावक अपने बच्चों को निजी के बजाए सरकारी स्कूलों में पढ़ाना चाहते हैं। चार साल में हमने 21 वें से दूसरे स्थान तक का सफर तय किया है, अब जल्द ही हम नंबर वन होंगे। शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने गुरूवार को अजमेर जिले के राजकीय ओसवाल उच्च माध्यमिक विद्यालय में 70 लाख रुपए के विकास कार्यों का शुभारंभ के अवसर पर आयोजित समारोह में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए यह बात कही।

news of rajasthan

File-Image: शिक्षा एवं पंचायतीराज राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी.

साढ़े चार साल में राजस्थान शिक्षा के क्षेत्र में 21वें स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंचा

शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने कहा कि विद्यालय में पिछले चार सालों में 90 लाख रुपए के विकास कार्य करवाए गए हैं। आजादी के बाद से पहली बार किसी सरकार ने स्कूलों में इतने बड़े पैमाने पर विकास कार्य करवाए हैं। उन्होंने कहा कि एक ही स्कूल में 90 लाख रुपए के विकास कार्य और पूरे उत्तर विधानसभा क्षेत्र में एक हजार करोड़ रुपए के विकास कार्य करवाए गए हैं। मंत्री देवनानी ने कहा कि हमने प्रत्येक वर्ग को साथ लेकर सबका विकास किया। शहर के स्कूलों में 10 करोड़ से अधिक राशि के निर्माण कराए गए हैं। उन्होंने कहा कि साढ़े चार साल पहले राजस्थान की शिक्षा देश में 21वें स्थान पर थी। हमने कमियों को सुधारा, प्रदेश के सवा लाख से ज्यादा शिक्षकों को पदोन्नति दी। स्कूलों में नए कक्षा-कक्ष, शौचालय तथा अन्य सुविधाएं विकसित की गर्इं। राज्य सरकार के प्रयास और शिक्षकों के समर्थन से शानदार परिणाम मिले हैं।

करोड़ों की लागत के विकास कार्यों से अजमेर शहर हो रहा विकसित

शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने कहा कि अब अजमेर शहर तेजी से विकसित हो रहा है। स्मार्ट सिटी योजना के तहत एलीवेटेड रोड सहित सैकड़ों करोड़ रुपए के काम करवाए जा रहे हैं। आनासागर झील के चारों ओर चौपाटी, सुभाष उद्यान, मिनी बर्ड सेंचुरी, लवकुश उद्यान, कैफेटेरिया सहित अन्य काम जल्द ही पूरे किए जाएंगे। जयपुर रोड पर किंग एडवर्ड मेमोरियल, क्लॉक टावर, शहीद स्मारक एवं गांधी भवन आदि इमारतों का सौंदर्यकरण किया गया है। दरगाह क्षेत्र दिल्ली गेट, टूरिस्ट सूचना कियोस्क, मल्टीलेवल पार्किग, सिटी बस सेवा, स्मार्ट पार्क, केईएम में हाट बाजार, हैरिटेज म्यूजियम, फिल्म लाइब्रेरी, बेटी गौरव उद्यान आदि कार्य भी करवाए जा रहे हैं।

Read More: राजस्थान: राज्य सरकार के लैंड पूलिंग एक्ट को राष्ट्रपति ने दी मंजूरी

नामांकन बढ़ाने के दिए निर्देश

शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने विद्यालय में नामांकन एवं शैक्षिक गुणवत्ता की भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि नामांकन अभियान को 15 जुलाई तक बढ़ा दिया गया है। शिक्षक पूरे मनोयोग से प्रयास करें तथा ज्यादा से ज्यादा बच्चों को स्कूलों से जोड़ें।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.