news of rajasthan
कल्याण सिंह, राज्यपाल राजस्थान
news of rajasthan
कल्याण सिंह, राज्यपाल राजस्थान

अब जोधपुर विश्वविद्यालय के जुड़े हुए कॉलेज/विश्वविद्यालयों के कुलपति गोद लिए गांवों का हर 6 महीनों में निरीक्षण करेंगे। निरीक्षण में गांवों में वर्षा से पूर्व तालाबों व जल संरचनाओं की समुचित व्यवस्था के साथ-साथ साक्षरता दर की प्रगति, फसलों की स्थिति, साम्प्रदायिक सद्भाव की स्थिति और खुले में शौच से मुक्ति के तहत बने शौचालयों की स्थिति की भी समय-समय पर समीक्षा करेंगे। इसके अलावा, कुलपति स्तर पर निस्तारित हो सकने वाली समस्याओं का निस्तारण मौके पर कर अन्य समस्याओं की लिखित रिपोर्ट बनाकर उन्हें राज्यपाल को प्रस्तुत करेंगे। यह सभी आदेश राज्य विश्वविद्यालयों के कुलाधिपति और राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह ने दिए हैं। वह रविवार को जोधपुर में संचालित राज्य विश्वविद्यालयों की प्रगति की जानकारी ले रहे थे।

उन्होंने निर्देश दिए कि कुलपति गोद लिए गांव में चल रहे विकास कार्यों की प्रगति को निरन्तर देखने के लिए दो प्रोफेसर व 10 विद्यार्थियों के एक दल को जिम्मेदारी देना सुनिश्चित करे। इससे पूर्व उन्होंने जोधपुर में संचालित जय नारायण व्यास विश्वविद्यालय, आयुर्वेद विश्वविद्यालय, सरदार पटेल पुलिस विश्वविद्यालय, कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति व रजिस्ट्रार से विश्वविद्यालयों की विभिन्न परीक्षाओं के परिणामों और प्रवेश प्रक्रिया की प्रगति की जानकारी ली।

राज्यपाल कल्याण सिंह ने सभी कुलपतियों को प्रत्येक छह माह में गोद लिए गांवों की प्रगति का निरीक्षण कर लिखित रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है।

इन सबके अलावा, राज्यपाल कल्याण सिंह ने प्रत्येक विश्वविद्यालय सहित गोद लिए गांवों में फलदार व छायादार सघन पौधरोपण करने, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत की कल्पना को साकार करने के लिए स्वच्छता को प्राथमिकता देने, प्राध्यापकों की उपस्थिति की बायोमैट्रिक प्रणाली को अनिवार्य करने, परीक्षाओं की पवित्रता बनाए रखने, छात्रों के बेहतर स्वास्थ्य पर विशेष जोर देने के लिए खेलों के प्रति विशेष रूचि बढ़ाने और गांधी विषयक संगोष्ठियां आयोजित करने आदि बातों पर भी जोर दिया।

इस मौके पर जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय व आयुर्वेद विश्ववि़द्यालय के कुलपति प्रोफेसर राधेश्याम शर्मा, जयनारायण विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार प्रो. पी.के. शर्मा, पुलिस विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार जे.सी.पुरोहित, कृषि विश्वविद्यालय के डायरेक्टर रिसर्च डॉ. बी आर चौधरी, डायरेक्टर एज्यूकेशन डॉ.बीएस राजपुरोहित के साथ आयुर्वेद विश्ववि़द्यालय के रजिस्ट्रार अतुलबल रतनू उपस्थित थे।

read more: जेईई एडवांस-आॅल इंडिया टॉप 10 में कोटा के 5 स्टूडेंट

LEAVE A REPLY