news of rajasthan
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, राजस्थान
news of rajasthan
मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे, राजस्थान

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने महिला सुरक्षा पर बोलते हुए कांग्रेस को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के समय में कई बडे़ और शर्मनाक प्रकरण सामने आए, लेकिन अपने आप को महिला हितैषी बताने वाली कांग्रेस ने कुछ नहीं कहा। इसके दूसरी ओर, भाजपा सरकार ने महिलाओं के सम्मान व उनकी सुरक्षा के लिए समय-समय पर महत्त्वपूर्ण निर्णय लिए हैं। हमारी भाजपा प्रदेश सरकार ने 12 साल तक की मासूम बेटियों के साथ दुष्कर्म करने के अपराध पर फांसी की सजा का सख्त कानून बनाया। ऐसा कदम कांग्रेस भी उठा सकती थी लेकिन उनके नेता कभी भी महिलाओं के प्रति गंभीर नहीं थे। उन्होंने कहा, ‘महिला कल्याण व उनके उत्थान के लिए भाजपा सरकार संवेदनशील रही है। हमने भामाशाह, राजश्री व पेंशन सहित विभिन्न योजनाओं के माध्यम से महिलाओं के जन्म से लेकर वृद्धावस्था तक की सम्पूर्ण व्यवस्था की है।’

Read more: राजस्थान में साढ़े चार करोड़ से अधिक मतदाता करेंगे प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

भाजपा ने लिए महिला सशक्तिकरण की दिशा में ठोस फैसले

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाओं की तारीफ करते हुए मुख्यमंत्री राजे ने बताया कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदीजी की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, उज्ज्वला योजना, पीएम सुरक्षित मातृत्व अभियान सहित अनेक योजनाएं एवं तीन तलाक की कुप्रथा को समाप्त करने जैसे ठोस फैसले महिला सशक्तिकरण की दिशा में भाजपा सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाते हैं।

बीमारी प्रदेश से विकसित राज्य की कतार में राजस्थान

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि पिछले 5 वर्षों के दौरान भाजपा सरकार कठिन परिश्रम करके राजस्थान को बीमारू प्रदेश की श्रेणी से विकसित राज्यों की कतार में लेकर आयी है। विकास की इस गति को अनवरत जारी रखने के लिए भाजपा कार्यकर्ताओं की फौज पूरी तरह से तैयार है। विकास का उजाला समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक सुनिश्चित तरीके से पहुंचाते हुए भाजपा की राजस्थान सरकार ने प्रदेश में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं।

जनता खिलाएगी फिर से कमल

मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि प्रदेश में न्याय आपके द्वार कार्यक्रम के तहत ग्रामीणजन आपसी समझाइश व राजीनामा करके विभिन्न मामलों को सुलझा रहे हैं। साथ ही साथ फिर से पारिवारिक प्रेम व सौहार्द की तरफ अपने कदम बढ़ा रहे हैं। दूसरी ओर, पूरे जोश और उत्साह के साथ राजस्थान की जनता ने एक बार फिर कमल खिलाने का मन बना लिया है।

Read more: कटारिया व चतुर्वेदी ने भरे नामांकन, 152 प्रत्याशी कर चुके हैं दाखिल

LEAVE A REPLY