din-dayal-thirth-yatra-yojna
din-dayal-thirth-yatra-yojna

वसुंधरा राजे सरकार अपनी दीनदयाल उपाध्याय वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना के तहत इस वर्ष भी राज​स्थान के करीब 20,000 वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा कराएगी। इस कड़ी में सरकार ने शनिवार को शुरूआत करते हुए करीब एक हजार यात्रियों को रामेश्वरम् तीर्थ के लिए रवाना किया गया। जयपुर स्थित दुर्गापुरा रेलवे स्टेशन से देवस्थान राज्यमंत्री राजकुमार रिणवा, सांसद रामचरण बोहरा, देवस्थान बोर्ड के अध्यक्ष एसडी शर्मा, जिला प्रमुख मूलचंद मीना समेत कई अन्य जनप्रतिनिधियों ने पुष्पवर्षा करते हुए गाजे-बाजे के साथ ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रामेश्वरम् तीर्थ के लिए 347 यात्रियों को रवाना किया। बाकी के यात्री सवाई माधोपुर तथा कोटा रेलवे स्टेशन से शामिल हुए। इससे पहले सरकार ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए न्यूनतम आयुसीमा 70 से घटाकर 65 कर दी थी जिससे प्रदेश के अधिक से अधिक बुर्जर्गों को योजना का लाभ मिल सके।

din-dayal-thirth-yatra-yojna
राजे सरकार अपनी योजना के मुताबिक राज​स्थान के करीब 20,000 गरीब वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा कराएगी।

सीएम राजे की सोच है गरीबों को तीर्थ यात्रा करवाना: राज्यमंत्री राजकुमार रिणवा ने दुर्गापुरा रेलवे स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे की यह अच्छी सोच है। राज्य के वरिष्ठ नागरिक धन के अभाव में तीर्थ यात्राओं से वंचित नहीं रहे, इसे ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार ने यह अभिनव योजना शुरू की है। राजे सरकार की योजना के अनुसार, ट्रेन और वायुसेवा के माध्यम से प्रतिवर्ष राजस्थान के वरिष्ठ नागरिकों को पूरी सुविधा के साथ तीर्थयात्राएं करवाई जा रही हैं।

खान-पान से लेकर सभी सुविधाएं मिल रही मुफ्त: राजे सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के तहत गरीब वरिष्ठजनों को यात्रा के दौरान खान-पान, चिकित्सा सुविधा, सुरक्षा सहित सभी सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है। रामेश्वरम् के लिए रवाना हुई ट्रेन में जयपुर जिले के 161, अलवर के 84, सीकर के 25, झुंझुनूं के 30, दौसा के 45, धौलपुर के 20, करौली के 23, सवाई माधोपुर के 67, भरतपुर के 63, कोटा के 157, बूंदी के 66, बारां के 127 तथा झालावाड़ जिले के 127 यात्री रवाना हुए। यह ट्रेन 7 नवंबर को रामेश्वरम् पहुंचेगी और 11 नवंबर को वापस जयपुर पहुंच जाएगी।

raj-gov-free-thirth-yatra
यात्रा के दौरान खान-पान, चिकित्सा सुविधा, सुरक्षा सहित सभी सुविधाएं नि:शुल्क उपलब्ध करवाई जा रही है।

पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष दोगुना तीर्थयात्री: मंत्री राजकुमार रिणवा ने कहा कि, राज्य सरकार ने पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार तीर्थयात्रियों की संख्या बढ़ोतरी कर दोगुनी कर दी है। जिससे प्रदेश के अधिक से अधिक गरीब वरिष्ठ नागरिकों को सरकार की इस योजना का लाभ मिल सके। मंत्री रिणवा ने आगे कहा कि, वरिष्ठ नागरिकों को यात्रा के दौरान किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं हो इसके लिए देवस्थान विभाग ने खास इंतजाम किए हैं।

Read More: राजस्थान में 38 करोड़ की पेयजल परियोजनाओं का जलदाय मंत्री ने किया लोकार्पण

ये भी रहे उपस्थित: इस अवसर पर देवस्थान विभाग के आयुक्त जितेन्द्र उपाध्याय ने तीर्थयात्रियों के लिए एक स्वागत संबोधन भी दिया। ट्रेन को दुर्गापुरा स्टेशन पर हरी झंडी दिखाकर रवाना करते समय जनप्रतिनिधि कमेटी के सदस्य डॉ. अखिल शुक्ला, हरिहर पारीक, मुख्यमंत्री के शासन सचिव के.के. पाठक सहित देवस्थान विभाग के कई वरिष्ठ अधिकारीगण तथा गणमान्य लोग उपस्थित थे।

 

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY