झुंझुनूं की वंदना बनी एक दिन की कलक्टर, बेटियों का उत्साह बढ़ाने का एक प्रयास

बॉलीवुड अभिनेता अनिल कपूर की फिल्म नायक की तरह राजस्थान के झुंझुनूं जिले की वंदना जांगिड़ को एक दिन का कलेक्टर बनाया गया है। जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने खुद यह काम किया और पूरे दिन वंदना के सामने वाली कुर्सी पर बैठे दिखे। यह कर प्रदेश की बेटियों के होसलों को पंख लगाने का प्रयास किया गया है। असल में यह सरकार की बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान को आगे बढ़ाने के प्रयास में किया गया है।

news of rajasthan

12वीं कला वर्ग की टॉपर वंदना जांगिड़

खेतड़ी के बीलवा गांव के बेटी वंदना जांगिड़ ने 12वीं कला वर्ग में जिले में सर्वाधिक अंक प्राप्त किए हैं। इसके लिए वंदना को शुक्रवार को जिला कलक्टर ऑफिस में सम्मानित किया गया और एक दिन के लिए कलक्टर की कुर्सी संभलवाई। वंदना की इच्छा है कि वह सिविल सेवा में जाए। उसकी इसी इच्छा के चलते उसे एक दिन का जिला कलक्टर बनाया गया। इस बारे में जिला कलक्टर दिनेश कुमार यादव ने बताया कि ऐसा करने से बच्ची का हौंसला बढ़ेगा। इसका मकसद यही है कि इससे अन्य बच्चों को भी प्रेरणा मिले।

वंदना जांगिड़ का कहना है कि जिला प्रशासन की सबसे बड़ी कुर्सी पर बैठक गौरव महसूस कर रही है। उसने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि वह कभी कलक्टर की कुर्सी पर बैठेगी और कलक्टर उसके सामने बैठेंगे। वंदना एक प्रशासनिक अधिकारी बनना चाहती है। इस अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग विभाग के सहायक निदेशक विप्लव न्यौला सहित शिक्षा विभाग के अधिकारी मौजूद रहे।

read more: मुख्यमंत्री राजे की गंगापुरसिटी विधानसभा क्षेत्र को 77 करोड़ की सौगात

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.