पीएम मोदी का सपना साकार करने में वाल्मिकी समाज का बड़ा योगदान: मुख्यमंत्री राजे

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि वाल्मिकी समाज ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘स्वच्छ भारत’ के सपने को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। उन्होंने कहा कि वाल्मिकी समाज का स्वच्छ भारत मिशन को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। देशभर में वाल्मिकी समाज स्वच्छता अभियान में जिस प्रकार पूरे समर्पण से काम कर रहा है, वह वाकई सराहनीय है। मुख्यमंत्री राजे ने बुधवार को 21 हजार से ज्यादा सफाईकर्मियों की भर्ती की घोषणा पर बड़ी संख्या में आभार व्यक्त करने 8, सिविल लाइंस पर आए वाल्मिकी समाज के लोगों को संबोधित करते हुए यह बात क​ही। उन्होंने कहा कि जिस समाज की वजह से हम एक स्वस्थ और सुन्दर समाज के निर्माण में सफल हो रहे हैं, उसके कल्याण के लिए राज्य सरकार ने कई काम किए हैं।

news of rajasthan

Image: प्रधानमंत्री मोदी का सपना साकार करने में वाल्मिकी समाज का बड़ा योगदान: मुख्यमंत्री राजे

अगले तीन महीनों में 21 हजार 140 सफाई कर्मियों की भर्ती की जाएगी

मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि अगले तीन महीनों में प्रदेश के सभी स्थानीय निकायों में 21 हजार 140 सफाई कर्मियों की भर्ती की जाएगी। उन्होंने कहा कि इससे वाल्मिकी समाज के बेरोजगार युवाओं को आर्थिक संबल मिल सकेगा और साथ ही स्वच्छ राजस्थान का सपना भी पूरा होगा। सीएम ने आगे कहा कि नगरीय निकायों के कर्मचारियों को दिए जाने वाले 7वें वेतन आयोग का लाभ वाल्मिकी समाज के लोगों को मिलेगा। इस दौरान मुख्यमंत्री की घोषणा से वाल्मिकी समाज के लोगों में एक अलग ही उत्साह देखने को मिला। बड़ी संख्या में पहुंचे वाल्मिकी समाज के लोगों ने सीएम राजे का बहुत-बहुत आभार जताते हुए आगे भी इसी तरह काम करने की बात कही।

Read More: बड़ी खुशख़बरी: 1 लाख 8 हजार सरकारी नौकरियों की भर्ती निकाली जाएगी जुलाई तक

प्रदेश सरकार ने युवाओं को संबल देने के लिए उठाए कई कदम

मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि सरकार ने वाल्मिकी समाज के युवाओं को संबल देने के लिए कई कदम उठाए हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ने स्वरोजगार के लिए दिए गए 2 लाख रुपये तक के ऐसे बकाया लोन माफ कर दिए हैं जो 1980-81 और उसके बाद दिए गए थे। सीएम ने आगे कहा कि छात्रावासों में रह रहे अनुसूचित जाति के मेधावी छात्रों को आईआईटी, आईआईएम, लॉ और राष्ट्रीय स्तर के मेडिकल कॉलेजों और तकनीकी संस्थानों में प्रवेश के लिए सरकार ने मुख्यमंत्री नि:शुल्क कोचिंग योजना में नि:शुल्क कोचिंग की सुविधा भी शुरू की है। उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं का लाभ वाल्मिकी समाज के बच्चों और युवाओं को भी मिलेगा।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.