उदयपुर में शुरु हुआ नया पयर्टन क्षेत्र ‘फूलों की घाटी’, एडवेंचर से है भरपूर

news of rajasthan

फूलों की घाटी, उदयपुर (राजस्थान)

गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने हाल ही में उदयपुर शहर के समीप चीरवा घाटा क्षेत्र में नगर वन उद्यान ‘फूलों की घाटी’ का लोकार्पण किया। शहर से 9 किमी दूर वन क्षेत्र अम्बेरी में 80 हैक्टर भू भाग पर पूर्व में चीरवा घाटे से गुजरती 3400 मीटर लम्बाई पर विकसित फूलों की घाटी ने केवल नया पर्यटन स्थल है अपितु एक एडवेंचर से भरपूर जगह भी है। वैसे तो पर्यटन स्थल का टिकट काफी कम रखा गया है लेकिन आमजन को स्थल से जोड़ने के लिए माह में एक दिन निःशुल्क प्रवेश भी दिया जाने की योजना है।

news of rajasthan

‘फूलों की घाटी’ का उदघाटन करते हुए गुलाबचंद कटारिया, गृहमंत्री, राजस्थान।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कटारिया ने कहा कि प्राकृतिक स्थल उदयपुर की पहचान है और उनका संरक्षण एवं सौन्दर्यीकरण हमारी प्राथमिकताओं में हैं। नए स्थल विकास से पर्यटकों को नया प्राकृतिक माहौल की सौगात तो मिलेगी ही, क्षेत्रीय नागरिकों के लिए रोजगार के नए अवसर भी मुहैया होंगे। गृहमंत्री ने फूलों की घाटी स्थल पर 25 फीट की शिव प्रतिमा की स्थापना की हामी भरने पर मार्बल एसोसिएशन अध्यक्ष विजय गोधा का आभार भी जताया।

एडवेंचर से रोमांच भर देगी ‘जिप लाइन’

फूलों की घाटी स्थल में सबसे आकर्षक है ‘जिप लाइन’। इसकी लंबाई 375 मीटर है। पर्यटन व केफेटेरिया छोर से गोरेला व्यू प्वाइंट तक स्थापित की गई जिप लाइन गहरी खाई में ऊंचाई से गुजरने का रोमांच देगी। इसके अलावा, नेचर ट्रेल, हिल साईकिल, केफेटेरिया, चार स्थानों पर नेचर व्यू प्वांइंट, मध्य में इन्टर प्रिटेशन सेंटर, पुराने दरवाजे को हेरिटेल संरक्षण का रुप देते हुए पुनरुद्धार किया गया है।

यह होगा एंट्री चार्ज

  • वयस्कों के लिए 30 रुपए
  • विद्यार्थियों के लिए 10 रुपए
  • विदेशी नागरिकों के लिए 100 रुपए
  • कैमरे के लिए 50 रुपए
  • वीडियो कैमरे के लिए 100 रुपए
  • हिल साइकिल के लिए 50 रुपए प्रति घंटा तथा
  • जिप लाइन के लिए 200 रुपए प्रति व्यक्ति।

Read more: प्रदेश में खुलेंगी 3 ड्रग टेस्टिंग लैब, 4 लैब वाला पहला राज्य बनेगा राजस्थान

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.