Rajasthan Election 2018
To increase the pace of development of Rajasthan, BJP has to give another opportunity.

7 दिसम्बर 2018 यानी राजस्थान के अगले पांच साल का भविष्य तय करने वाला दिन। प्रदेश में 5 साल बाद विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। ये विधानसभा चुनाव राज्य के लिए अगले पांच साल के लिए बहुत मायने रखने वाले हैं। राजस्थान में विधानसभा की कुल 200 सीटें हैं, हालांकि फिलहाल 199 सीटों पर ही विधानसभा चुनाव हो रहा है। अलवर जिले की एक सीट रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र पर बसपा प्रत्याशी का ह्दय गति रूकने से निधन हो गया। इसलिए वहां अलग से तारीख निर्धारित कर चुनाव करवाए जाएंगे। प्रदेश में पिछले एक माह से सभी प्रमुख दलों के दिग्गज नेताओं की सभाएं हुईं। इस दौरान सभी ने अपने समर्थन में वोट करने की अपील की। अब सरकार चुनने के लिए आपकी बारी है। आपका मत तय करेगा कि अगले पांच साल के लिए आप किसे सत्ता में देखना चाहते हैं। इसलिए वोट करने से पहले दो सरकारों के बीच शासन करने का अंतर जरूर तय कर लें।

Rajasthan Election 2018
Image: सीएम वसुंधरा राजे और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी.

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को वोट क्यों करें?

2013 के विधानसभा चुनाव में आपने भारतीय जनता पार्टी यानी भाजपा को ऐतिहासिक बहुमत के साथ सत्ता में वापसी कराई। ये संभव हो पाया राजस्थान के साढ़े चार करोड़ मतदाताओं की वजह से। भाजपा इस बात के लिए राजस्थान के हर मतदाता का आज भी धन्यवाद करती है। पार्टी के अध्यक्ष स्वयं अमित शाह इस बात को कई बार मंचों से कह चुके हैं कि भाजपा के लिए जनता ही माई-बाप है। गत विधानसभा चुनाव के बाद राजस्थान के मतदाताओं ने लोकसभा चुनाव में जबर्दस्त समर्थन देते हुए नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाया। सिर्फ प्रधानमंत्री ही नहीं, एक ऐसा प्रधानमंत्री जिसने देश की जनता के ​खातिर वो फैसले लिए जो आज तक कोई नहीं ले सका। इस बात को हम सभी जानते हैं कि किसी भी नई व्यवस्था की शुरूआत में थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। लेकिन इसका लाभ भविष्य में होता है। मोदी के आने से न केवल देश मजबूत हुआ बल्कि दुश्मन देशों को भी हर मोर्चे पर धूल चटा दी है।

Read More: अगस्ता-वेस्टलैंड घोटाले पर बोले पीएम मोदी.. राजदार हाथ लगा है, अब उनके राज खोलेगा

पीएम मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार में देश के हर राज्य का गरीब मजबूत हुआ है। आम आदमी को कई मामलों में बड़ी राहत मिली है। राजस्थान के लोगों को केन्द्र की 180 से ज्यादा योजनओं का लाभ मिल रहा है। किसकी बदौलत.. प्रधानमंत्री के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार की बदौलत। प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने केन्द्र के सहयोग से राजस्थान को देश के अग्रणी राज्यों में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। अब बस जरूरत है तो आपके साथ की.. राजस्थान के विकास की रफ्तार को गति देने के लिए एक बार फिर से भाजपा की सरकार बननी चाहिए। पहली बार प्रदेश में कोई ऐसी सरकार आई है जिसने हर व्यक्ति के लिए सोचा है। सरकार बदलने से भी योजनाएं अटक जाती है जिससे विकास को रफ्तार नहीं मिल पाती। इसलिए इस बार बीजेपी का साथ देकर राजस्थान की किस्मत आप बदल सकते हैं।

राजस्थान में भाजपा की सरकार ने भामाशाह डिजिटल परिवार योजना, भामशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, भामाशाह योजना, भामाशाह वॉलेट योजना, मुख्यमंत्री पालनहार योजना, मुख्यमंत्री आवासीय योजना, द्विव्यांग छात्रा स्कूटी योजना, वरिष्ठ नागरिक तीर्थयात्रा योजना, राजस्थान छात्रवृति योजना, राजश्री योजना, राजस्थान ई—सखी योजना, राजस्थान कुसुम योजना, राजस्थान अन्नपूर्णा योजना, राजस्थान अन्नपूर्णा दूध योजना, भामाशाह पशु योजना, राजस्थान तारबंदी योजना, मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना, कौशल अनुदान योजना जैसी जन कल्याण की कई योजनाएं चलाई है। इसका लाभ आप और हमारे जैसे करोड़ों लोगों को मिला है। इसलिए आने वाले पांच साल विकास की रफ्तार बनाए रखने वाली पार्टी को अपने समर्थन के रूप में देकर राजस्थान का भविष्य उज्जवल बनाएं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here