news of rajasthan
Special ballot will be used for special voters in Rajasthan bypoll.

राजस्थान में 29 जनवरी को होने जा रहे उपचुनावों में विशेष मतदाताओं के लिए इस बार खास मतपत्र का इस्तेमाल किया जाएगा। दरअसल, प्रदेश उपचुनाव में विशेष वोटर्स को मताधिकार का हक दिलाने के लिए खास मतपत्र तैयार करवाए गए हैं। नेत्रहीन मतदाताओं को ध्यान में रखकर यह प्रशंसनीय कदम उठाए गए हैं। चुनाव में आमजन की भागीदारी के लिए भारत निर्वाचन आयोग ने नेत्रहीन मतदाताओं का विशेष ध्यान रखा है।

news of rajasthan
राजस्थान उपचुनाव में विशेष वोटर्स के लिए इस्तेमाल होंगे खास मतपत्र.

चुनाव आयोग ने छपवाए हैं 4 हजार से ज्यादा ब्रेल मतपत्र

इलेक्शन कमिशन ने उपचुनावों के लिए करीब 4 हजार 200 ब्रेल मतपत्र छपवाए हैं। ब्रेल मतपत्रों के मुद्रण राज्य के एकमात्र राजस्थान नेत्रहीन कल्याण संघ, जयपुर द्वारा किया गया है। इनकी खास बात यह होगी कि इन मतपत्रों द्वारा कोई भी नेत्रहीन वोटर्स मतदान केंद्रों पर मतदान करने से पहले अभ्यर्थियों के क्रमांक, नाम एवं पार्टी आदि पढ़कर ईवीएम पर लगे हुए ब्रेल बटनों के माध्यम से अपने इच्छित प्रत्याशी के पक्ष मतदान कर सकेंगे।

Read More: राजस्थान उपचुनाव: ईवीएम मशीनों का रेंडमाइजेशन 28 जनवरी को होगा

उपचुनावों के लिए ईवीएम मतपत्रों के मुद्रण का कार्य पूरा

जानकारी के अनुसार, प्रदेश में होने वाले लोकसभा और विधानसभा उपचुनावों के लिए ईवीएम मतपत्रों के मुद्रण का कार्य भी 17 जनवरी तक पूरा कर लिया गया है। अलवर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए 4 हजार 700, अजमेर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए 48 हजार और मांडलगढ़ विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए लगभग 7 हजार मतपत्र जयपुर और अलवर के मुद्रणालयों में मुद्रित करवा लिए गए हैं। इन मतपत्रों में टेंडर वोट भी हैं।

 

LEAVE A REPLY