राजस्थान आये शाहरुख खान ने जोधपुर और जयपुर घूमा, हमारे पर्यटन और खाने ने मन मोहा

हर दिल अज़ीज़ अभिनेता शाहरुख खान कल शुक्रवार को अपनी शाही मेहमाननवाज़ी के लिए दुनियाभर में जाने जाने वाले राजस्थान में आये। शाहरुख अपनी आने वाली फिल्म जब हेरी मेट्स सेज़ल के प्रचार के लिए राजस्थान आये। इस फिल्म में शाहरुख एक गाइड का किरदार निभा रहे है। इम्तियाज़ अली द्वारा निर्देशित इस फिल्म में शाहरुख खान के साथ अनुष्का शर्मा है। फिल्म के प्रमोशन के सिलसिले में राजस्थान आये। शाहरुख सबसे पहले ब्लू सिटी जोधपुर पहुंचे। यहाँ दुनियां के सबसे ऊंचे किलों में शामिल मेहरानगढ़ जाकर उन्हौने राजस्थान के वैभव को निहारा। राजस्थान में शाहरुख खान का स्वागत पूरे जोधपुरी अंदाज़ में किया गया। राजस्थान का ठेठ रंग देने के लिए शाहरुख को जोधपुरी पगड़ी भी पहनाई गई। इसके बाद शाहरुख शाम को राजधानी जयपुर पहुंचे।

twitter

जोधपुर टूरिस्ट गाइड एसोसिएशन ने बनाया ऑनररी गाइड:

जोधपुर पहुंचे शाहरुख खान ने मेहरानगढ़ में फोटोशूट करवाया। ठेठ राजस्थानी अंदाज़ में पगड़ी पहनकर खिंचवाई गई फोटो को शाहरुख ने अपने इंस्टाग्राम और ट्वीटर अकाउंट पर पोस्ट किया। शाहरुख अपनी आने वाली फिल्म ‘जब हैरी मेट सेजल’ में एक गाइड की भूमिका निभा रहे हैं। इसके लिए जोधपुर पर्यटक गाइड एसोसिएशन की ओर से शाहरुख को एसोसिएशन की मानद सदस्यता से सम्मानित किया गया। एसोसिएशन उन्हें एक बिल्ला और एक सदस्यता प्रदान किया। इस सदस्यता के बाद अब शाहरुख एक वास्तविक जीवन के गाइड बन गए हैं। एसोसिएशन ने शाहरुख खान को शुक्रवार को होटल विवान्ता बाय ताज में यह सदस्यता सौंपीं। गौरतलब है कि 1965 में देवआनंद की गाइड के बाद शाहरुख ने गाइड के पेशे को फ़िल्मी परदे पर जीवंत किया है।

शाम को पहुंचे राजधानी जयपुर:

जोधपुर से रवाना होकर शाहरुख शाम को राजधानी जयपुर पहुंचे। यहाँ अपने फ़िल्मी प्रचार के दौरान शाहरुख ने कई कार्यक्रमों में भाग लिया। शाहरुख ने राजस्थान की शाही थाली का स्वाद लिया। इसमें उन्हौने दाल-बाटी और चूरमा खाया। राजस्थानी खाने की तारीफ़ करते हुए शाहरुख़ ने कहा कि ‘यह लाजवाब है।’ राजस्थान की धरोहरों और ऐतिहासिक विरासत को शाहरुख ने अतुलनीय बताया।  राजस्थान में हुई मेहमाननवाज़ी को शाहरुख ने बेहतरीन बताया। शाहरुख़ ने राजस्थान के पर्यटन विभाग का तहेदिल से स्वागत करते हुए ट्वीट किये।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.