news of rajasthan

news of rajasthan

राजस्थान में आगामी विधानसभा चुनावों में बीजेपी को कड़ी टक्कर देने के लिए कांग्रेस पार्टी प्रवक्ताओं के चयन के लिए इंटरव्यू का सहारा ले रही है। पहले दिन प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में करीब 40 उम्मीदवारों से राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी और आईटी सेल के रोहन गुप्ता ने ऐसे सवाल पूछे, जिसके बाद एक बार फिर कांग्रेसी नेताओं में भूचाल आ गया है। इंटरव्यू के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट के बीच चल रही अंदरूनी घमासान को लेकर उम्मीदवारों की नब्ज टटोलने का प्रयास किया जा रहा है।

उम्मीदवारों से पूछे गए प्रश्न कुछ इस प्रकार हैं:-

  • आप सचिन पायलट और अशोक गहलोत में से किसे ज्यादा पंसद करते हो?
  • दोनों नेताओं के गुणों व जनाधार के बारे में बताओ?
  • व्यक्तिगत तौर पर गहलोत व सचिन पायलट में से कौन श्रेष्ठ है?
  • उम्मीदवारों के राजनीतिक परिदृश्य, चुनाव लड़ने की इच्छा, विरोधियों का सामना करने की रणनीति के बारे में भी सवाल किए।

निष्कर्ष: बीजेपी को आक्रामक रूप से घेरने के लिए कांग्रेस के प्रवक्ता चयन की प्रक्रिया खुद पार्टी के लिए गले की फांस बन रही है। इस सवालों के मीडिया में आने के बाद प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता नाखुश दिखाई दे रहे हैं। उम्मीदवारों से गुटबाजी भरे सवाल पूछना कांग्रेस की आंतरिक कलह को उजागर करने वाला और कार्यकर्ताओं के बीच फूट डालने वाला है। इससे स्पष्ट है कि प्रवक्ता चयन प्रक्रिया को साफ व पारदर्शी बताने वाली कांग्रेस पार्टी के दावे 80 प्रतिशत झूठे हैं।

सच्चाई: 20 % झूठ: 80 %

Read more: महिला सुरक्षा व आरक्षण बिल पर अशोक गहलोत के दावों की हकीकत

LEAVE A REPLY