news of rajasthan
Rajasthan's first solar hybrid electric vehicle charging station started.

राजस्थान की राजधानी जयपुर सहित प्रदेशभर के इलेक्ट्रिक वाहन रखने वाले लोगों के लिए एक बड़ी खुशी की ख़बर है। राजस्थान सरकार की पहल पर प्रदेश का पहला सरकारी चार्जिंग स्टेशन रविवार को शुरू हो गया है। अब जल्द ही जयपुर में 50 और स्थानों पर ऐसे चार्जिंग स्टेशन शरू किए जाने की योजना है। प्रदेश में बड़ी संख्या में इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशनों की शुरूआत होने से इलेक्ट्रिक वाहन रखने वाले लोगों को बड़ी सहूलियत मिलेगी। जयपुर में पहले चार्जिंग स्टेशन के शुभारंभ के मौके पर नगर निगम समेत कई विभागों के अधिकारी मौजूद भी रहे।

news of rajasthan
File-Image: राजस्थान के पहले सौर हाईब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन की हुई शुरूआत.

12 किलोवाट का है प्रदेश का पहला इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन

जयपुर के रामलीला मैदान में रविवार को इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज करने के लिए नए चार्जिंग स्टेशन की शुरूआत हो गई है। प्रदेश का पहला सौर हाईब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन 12 किलोवाट का है। अब प्रदेश में सोलर पैनल से एकत्रित की गई सौर ऊर्जा के जरिए इलेक्ट्रिक टू व्हीलर, ई-रिक्शा और कारों को चार्ज किया जा सकेगा। केन्द्र सरकार के भारी उद्योग विभाग, राजस्थान इलेक्ट्रिक एंड इंस्ट्रूमेंट्स लिमिटेड और नगर निगम की ओर से इस चार्जिंग स्टेशन की शुरूआत की गई है।

Read More: राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती ऑनलाइन परीक्षा 20 से 31 मार्च तक स्थगित

जयपुर में अब जल्द ही शुरू होंगे 50 चार्जिंग स्टेशन

बता दें, जयपुर नगर निगम ने चार्जिंग स्टेशन के लिए जगह मुहैया कराई है। रविवार को निगम कमिश्नर रवि जैन, भारी उद्योग विभाग के निदेशक प्रवीण अग्रवाल, आरईआईएल के एमडी एके जैन ने इसकी शुरूआत की। इस दौरान बताया गया कि जयपुर में जल्द ही 50 स्थानों पर ऐसे चार्जिंग स्टेशन लगाए जाएंगे, जिससे राजधानी और आस-पास के अधिक से अधिक लोग इनका फायदा उठा सकें। जयपुर नगर निगम कमिश्नर जैन ने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत भी ऐसे चार्जिंग स्टेशन लगाने को लेकर विचार किया जाएगा। जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले राजधानी में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए कई जगह निजी चार्जिंग स्टेशन संचालित हो रहे हैं, लेकिन सरकारी सौर हाईब्रिड इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन का पहली बार शुभारंभ हुआ है।

 

LEAVE A REPLY