राजस्थान में पहली बार दृष्टीहीन मतदाता भी कर सकेंगे वोटिंग

राजस्थान विधानसभा चुनाव-2018 में ऐसा काफी कुछ होने जा रहा है जो इतिहास में पहली बार होगा।

news of rajasthan

राजस्थान सहित अन्य 5 राज्यों में चुनावी तारीखों की घोषणा हो चुकी है। प्रदेश में विधानसभा चुनाव 7 दिसम्बर को होने हैं और परिणाम 11 दिसम्बर को आएगा। खास बात यह है कि राजस्थान विधानसभा चुनाव-2018 का आम चुनाव पिछले चुनावों की तुलना में बहुत ज्यादा खास होने वाला है। राज्य में दृष्टीहीन मतदाता के लिए पहली बार ब्रेल लिपि का भी इस्तेमाल होगा। चुनाव आयोग ने ईवीएम मशीन में ब्रेल लिपि का विकल्प रखा है। जिसके तहत नेत्रहीन मतदाता को अपने मनपंसद प्रत्याशी को वोट देना आसान होगा। दृष्टीहीन मतदाता बटन को टटोल कर अपने मन मुताबिक प्रत्याशी को मतदान कर सकेंगे। प्रदेश के सभी मतदान केंद्रों पर दृष्टिहीन मतदाताओं के लिए सुगम मतदान की व्यवस्था की गई है। ऐसा प्रयोग राज्य के विधानसभा चुनाव में पहली बार किया जा रहा है।

Read more: राजस्थान सहित 5 राज्यों में इस तारीख को होंगे चुनाव, तत्काल प्रभाव से आचार संहिता लागू

ब्रेल लिपि के साथ प्रत्येक बूथ पर व्हीलचेयर चेयर की व्यवस्था भी की गई है ताकि बूथ तक नेत्रहीन और दिव्यांगजन आसानी से पहुंच सके।

प्रदेश में दृष्टिहीन मतदाताओं के लिए ब्रेल लिपि की व्यवस्था की गई है. वहीं दिव्यांगजन के लिए प्रत्येक बूथ पर व्हीलचेयर भी उपलब्ध कराई जाएगी। – आनंद कुमार, मुख्य निर्वाचन अधिकारी

इनके साथ राजस्थान विधानसभा चुनाव-2018 में पहली बार सभी 200 सीटों में से एक-एक ऐसा अनोखा बूथ भी बनाया जाएगा जिसका पूरा जिम्मा केवल महिलाओं के पास होगा। इनमें मतदानकर्मी एवं सुरक्षाकर्मी से लेकर सारी जिम्मेदारी महिलाओं के हाथों में होगी। यही नहीं, शहरी क्षेत्रों में जहां महिला कर्मियों की संख्या अधिक है, वहां पर भी ऐसे प्रयोग किए जा सकते हैं।

Read more: ईवीएम मशीनों के साथ बैलेट पेपर से भी होंगे चुनाव, जानिए वजह…

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.