माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर युवाओं को डिजिटल लर्निंग देने वाला राजस्थान बना पहला राज्य: उच्च शिक्षा मंत्री

राजस्थान माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर युवाओं को डिजिटल लर्निंग देने वाला देश का पहला राज्य बन गया है। प्रदेश की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने कहा कि आज का युग तकनीक और स्पीड का है, जो कोई भी अपडेटेड नहीं रहेगा वह आउटडेटेड हो जाएगा। यही वजह है कि उच्च शिक्षा में नवाचार करते हुए सरकार ने माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के साथ ऐसा एमओयू किया है, जो प्रदेश की कॉलेजों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं को नि:शुल्क तौर पर डिजिटल प्रशिक्षण देगा। बता दें, देश में राजस्थान पहला ऐसा प्रदेश होगा जहां माइक्रोसॉफ्ट कंपनी छात्रों की डिजिटल लर्निंग के लिए ऐसा नवाचार रही है। मंत्री माहेश्वरी ने सोमवार को माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के साथ हुए एमओयू कार्यक्रम में यह बात कही।

news of rajasthan

Image: राजस्थान की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी.

प्रदेश के 9500 युवाओं को मिलेगा डिजिटल लिट्रेसी का प्रशिक्षण

उच्च शिक्षा मंत्री माहेश्वरी ने कहा कि प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया और मुख्यमंत्री के डिजिटल राजस्थान की कोशिश को और अधिक मजबूती देते हुए माइक्रोसॉफ्ट कंपनी ने देश में पहली बार किसी राज्य के साथ एक खास एमओयू करते हुए साढ़े नौ हजार छात्र-छात्राओं को डिजिटल लिट्रेसी का प्रशिक्षण देने का बीड़ा उठाया है। इस कार्यक्रम का मकसद राजकीय कॉलेजों में शिक्षा में तकनीकी शिक्षा विकास में सहायता करना, कैपेसिटी बिल्डिंग करना, डिजिटल साक्षरता बढ़ाना और राजस्थान में डिजिटल शिक्षा के स्तर मेंं सुधार लाना है। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि उच्च शिक्षा विभाग हमेशा नवाचारों के लिए जाना जाता है। विभाग ने कुछ महीनों पहले इग्नू (इंदिरा गांधी खुला विश्वविद्यालय) के साथ एमओयू करते हुए कौशल विकास के करीब दो दर्जन कोर्स शुरू करवाए, जिसमें 16 हजार 500 छात्र पंजीकृत हैं।

उन्होंने कहा कि विभाग का ‘दशारी’ एप आज प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे छात्रों की जरूरत बन गया है। अब तक डेढ़ लाख से ज्यादा छात्रों ने इसे डाउनलोड किया है। राज्य के छात्रों की अंग्रेजी को बेहतर से बेहतरीन बनाने के लिए विभाग ने ‘अपर’ ऑनलाइन क्लासेज शुरू करवाई। यही नहीं बड़ी कंपनियों में सीधे प्लेसमेंट के लिए सेंट्रल प्लेसमेंट सेल बनाने जैसे कई शुरुआत की हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक कॉलेज में ई-लाइब्रेरी, वाई-फाई कैंपस, ई-क्लासरूम, लाइव लेक्चर जैसे कई और भी प्रयोग किए जा रहे हैं।

Read More: कोटा में खुलेगा प्रदेश का पहला सीबीआरएन सेंटर

50 राजकीय महाविद्यालयों में शुरू होगा माइक्रोसॉफ्ट की ओर से प्रशिक्षण प्रारम्भ

कालेज शिक्षा आयुक्त आशुतोष पेढ़णेकर ने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत 50 राजकीय महाविद्यालयों में माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस स्पेशिलिस्ट प्रशिक्षण प्रारम्भ करवा रहा है, जो कि अगस्त माह से नवम्बर माह तक की अवधि में पूर्ण होगा। इसके अन्तर्गत 4 महीनों की अवधि में माइक्रोसॉफ्ट स्पेशियलिस्ट करिकुलम पर राज्य के 50 कॉलेजों से 500 एजुकेटर्स और 9,500 विद्यार्थियों को प्रशिक्षित करेगा तथा कार्यक्रम सफलतापूर्वक पूरा करने वाले विद्यार्थियों को पारंगत परीक्षा के बाद प्रमाण-पत्र प्रदान भी करेगा।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.