राजस्थान: राज्य स्तरीय परंपरागत खेल प्रतियोगिता का हुआ शुभारंभ

राजस्थान फेस्टिवल 2018 के तहत राज्य स्तरीय परंपरागत खेल प्रतियोगिता का आज शुक्रवार से शुभारंभ हो गया। प्रदेश के पारंपरिक खेलों की प्रतियोगिता का आयोजन जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में किया जा रहा है। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का आयाेजन पर्यटन विभाग, राजस्थान सरकार एवं राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद् के संयुक्त तत्त्वावधान में किया जा रहा है। परंपरागत खेलों के तहत प्रतियोगिता में 7 तरह के खेलों का आयोजन किया जा रहा है। इनमें कबड्डी, तीरंदाजी, सितोलिया, रूमाल-झपट्टा और भारतीय कुश्ती जैसे खेल शामिल हैं।

News of rajasthan

File-Image: राजस्थान: राज्य स्तरीय परंपरागत खेल प्रतियोगिता की हुई शुरूआत.

28 मार्च को ‘रन फॉर राजस्थान’ से होगा प्रतियोगिता का समापन

बता दें, इस प्रतियोगिता से पहले सभी जिला स्तर पर परंपरागत खेलों का आयोजन किया गया था। वहां जिला स्तर पर विजेता रही टीमें जयपुर में आयोजित राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग ले रही हैं। ये प्रतियोगिताएं 27 मार्च तक चलेंगी और इसके बाद 28 मार्च को ‘रन फॉर राजस्थान’ प्रतियोगिता के साथ राज्य स्तरीय परंपरागत खेलों का समापन होगा। इससे पहले गुरुवार को सवाई मानसिंह स्टेडियम में संभाग स्तरीय मुकाबलों में तीरंदाजी और कबड्डी के मुकाबले खेले गए। इस दौरान प्रतियोगिता में बने रहने के लिए सभी टीमों ने पूरा जोश और दमखम दिखाया।

Read More: राज्यपाल ने ख्वाजा की दरगाह में चादर पेश कर खुशहाली और समृद्धि की मांगी दुआ

गुरुवार को राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद् के सचिव नारायण सिंह ने बताया परंपरागत खेलों के जिला व संभाग स्तरीय मुकाबले पूरे हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि शुक्रवार से इनके राज्य स्तरीय मुकाबले होंगे। सिंह ने बताया कि परपंरागत खेलों को बनाए रखने के लिए पर्यटन विभाग, राजस्थान सरकार और राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद् इन खेलों का आयोजन करता रहा है ताकि ये खेल जनमानस के बीच बने रहें और उन्हें प्राेत्साहन मिल सकें।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.