राजस्थान रॉयल्स के लिए कितना मायने रखता है चेन्नई सुपरकिंग्स से मैच

news of rajasthan

राजस्थान रॉयल्स आज जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में चेन्नई सुपरकिंग्स के खिलाफ खेलने उतरेगी। कैंसर की अवेयरनेस के लिए पिंक ड्रेस में उतरने वाली राजस्थान रॉयल्स की टीम का हालांकि यह घरेलू मैदान है लेकिन चेन्नई सुपरकिंग्स की टीम हलके में लेना भी ठीक नहीं होगा। अगर रॉयल्स को प्लेआॅफ की जंग में बने रहना है तो अपने शेष बचे सभी मैच न केवल जीतने होंगे, अन्य टीमों के रिजल्ट पर भी नजर जमानी होगी।

अभी तक रहा है चेन्नई का पलड़ा भारी

आईपीएल में अब तक दोनों टीमों के बीच 18 मैच हुए हैं। इनमें से 12 चेन्नई ने और 6 राजस्थान ने जीते हैं। सवाई मानसिंह स्टेडियम में दोनों टीमें अभी तक 4 बार आमने-सामने हुई हैं जिनमें से दोनों ने 2-2 जीत अपने नाम की है। चेन्नई के लिए खुद कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी अच्छी फॉम में हैं। शेन वाटसन, सुरेश रैना, ब्राओ के साथ अंबाती रायडू बड़े हिटर बनकर उभरे हैं। गेंदबाजी की कमान हरबजन सिंह, इमरान ताहिर, शार्दुल ठाकुर व करण शर्मा के हाथों में है। राजस्थान की बल्लेबाजी ठीक है लेकिन मिडिल आॅर्डर का प्रदर्शन अब तक फीका रहा है। गेंदबाजी काफी कमजोर है जिसपर ध्यान देना होगा।

चारों मैच जीतने पर कटेगा प्लेआॅफ का टिकट

राजस्थान रॉयल्स ने आईपीएल 11 में अब तक 10 मैच खेले हैं। 4 जीत और 8 पॉइंट के साथ वह अंकतालिका में छठे नंबर पर है। चेन्नई (14 अंक) फिलहाल दूसरे नंबर पर है और प्लेआॅफ में लगभग पहुंच चुकी है। पहले पायदान पर सनराइजर्स हैदराबाद (16 अंक) है जो पहले से ही प्लेआॅफ में पहुंच गई है। पंजाब (12 अंक), मुंबई इंडियंस (10 अंक) और कोलकाता (10 अंक) क्रमश: तीसरे, चौथे और 5वें नंबर पर है। अगर आज का मैच राजस्थान जीतती है तो भी अंकतालिका पर कोई असर नहीं होगा लेकिन आगे के मैचों में इसका असर दिखने लगेगा।

अन्य टीमों के रिजल्ट पर भी रहेगी नजर

आगे आने वाले मैचों में अगर राजस्थान रॉयल्स अपने बचे सभी चारों मैच जीतने में कामयाब होती है और अगर मुंबई व कोलकता अपने एक-एक मैच हार जाती है तो अंकों के हिसाब से राजस्थान को चौथा नंबर मिलेगा और साथ ही मिलेगी प्लेआॅफ में एंट्री। अगर इन सभी टीमों के अंक समान हुए तो नाइटराइडर्स या मुंबई रनरेट के हिसाब से राजस्थान से आगे होने की वजह से अंतिम 4 में शामिल होंगी। राजस्थान के प्लेआॅफ में पहुंचने के लिए रॉयल चैलेन्जर्स बेंगलुरू को भी दो मैच हारने होंगे।

read more: सौभाग्य योजना में शत प्रतिशत लक्ष्य पाने पर राजस्थान सरकार की केंद्र ने थपथपाई पीठ

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.