राजस्थान: चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में 13 हजार से अधिक पदों पर भर्ती शीघ्र

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में लंबे समय से भर्ती का इंतजार कर रहे राजस्थान के लाखों बेरोजगार युवाओं को वसुंधरा राजे सरकार ने बड़ी खुशख़बरी दी है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग जल्द ही 13 हजार से अधिक पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। राजस्थान सरकार के शासन सचिव, कार्मिक विभाग ने चिकित्सा विभाग सहित राज्य के अन्य विभिन्न विभागों में भर्तियों तथा रिक्त चल रहे पदों के लिए जानकारी मांगी। चिकित्सा विभाग ने कार्मिक विभाग को 13,500 पदों पर भर्ती की जानकारी उपलब्ध करवाई है। शासन सचिव भास्कर ए सावंत ने चिकित्सा विभाग की ओर से भेजे गए रिक्त पदों की सूचना गुरुवार को अपलोड भी कर दी है। अब जल्द ही इन पदों पर विभाग की ओर से भर्ती प्रक्रिया शुरू की जानी है।

news of rajasthan

File-Image: राजस्थान: चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग में 13 हजार से अधिक पदों पर भर्ती शीघ्र.

चिकित्सा विभाग में इन पदों पर जल्द ही आवेदन मांगे जाएंगे

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग , राजस्थान में चार श्रेणियों में आवेदन मांगे जाएंगे। जिसमें चिकित्सा विभाग ने एएनएम के 5 हजार 558 पदों, जीएनएम के 4514 पदों, लैब अस्सिटेंट के 1 हजार 534 पदों तथा फार्मासिस्ट के 1 हजार 755 पदों पर भर्ती किए जाने की सूची कार्मिक विभाग को भेजी है। इन पदों के लिए जल्द ही भर्ती विज्ञप्ति जारी कर दी जाएगी। पिछले कुछ समय से चिकित्सा विभाग में भर्ती नहीं हुई है। प्रदेश में फिलहाल बड़ी संख्या में राजस्थान मेडिकल रिलीफ सोसायटी के मार्फत संविदा पर नर्सिंगकर्मियों को लगा रखा है। शासन सचिव की ओर से रिक्त पदों की जानकारी मांगने के साथ ही अस्पताल प्रबंधन भी अपने यहां खाली चल रहे पदों की सूची तैयार करने में जुट गए हैं।

Read More: सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ राजस्थान दिवस समारोह की महफिल का समापन

नि:शुल्क दवा काउंटर पर अब नहीं होगी फार्मासिस्ट की कमी

प्रदेश में पर्याप्त संख्या में फार्मासिस्ट की कमी के कारण नि:शुल्क जांच व दवा योजना की स्थिति ठीक नहीं है। यही कारण है कि फार्मासिस्ट की कमी के कारण दवा काउंटर पर कई बार हेल्पर दवा वितरित करते देखे जा सकते हैं। कार्मिक विभाग ने दवा स्टोर पर फार्मासिस्ट की कमी के कारण फार्मासिस्ट के रिक्त पदों की सूची मांगी थी। जिसके बाद अब जल्द ही होने वाली भर्ती से फार्मासिस्ट के रिक्त चल रहे पद भरे जाएंगे। खासकर प्रदेश के ग्रामीण अंचलों में प्राथमिक व सामुदायिक चिकित्सा केन्द्रों पर स्टाफ की कमी के कारण रात्रिकालीन सेवाएं लोगों को नहीं मिल पा रही है। लेकिन अब जल्द ही भर्ती कर इन रिक्त पदों पर पर्याप्त स्टाफ की नियुक्ति कर दी जाएगी।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.