राजस्थान चुनाव: झालरापाटन से ही चुनाव लड़ेंगी मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे

प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे अपने गृह विधानसभा क्षेत्र झालरापाटन से ही आगामी विधानसभा चुनाव लड़ेगी। उन्होंने रविवार को झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र के भाजपा बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में इसकी घोषणा की। मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि झालावाड़ से मेरा 30 साल पुराना अटूट रिश्ता है, जो जब तक सांस है तब तक रहेगा। यह रिश्ता मुख्यमंत्री और कार्यकर्ताओं के बीच का नहीं, ये रिश्ता माँ-बेटे, मां-बेटी, बहन-भाई के बीच का है। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों ने उन्हें बहुत प्यार दिया। मैंने भी पूरे मन से झालावाड़-बारां के लिए जो भी मुझ से बन पड़ा, किया है। इसीलिए 30 साल पहले के झालावाड़-बारां और आज के झालावाड़-बारां में विकास का बहुत बड़ा अंतर साफ दिखाई देता है।

news of rajasthan

Image: झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र के भाजपा बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे.

ये चुनाव मैं नहीं, झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र का हर व्यक्ति लड़ेगा

मुख्यमंत्री राजे ने सम्मेलन में कहा कि ये चुनाव मैं नहीं, झालरापाटन विधानसभा क्षेत्र का हर व्यक्ति लड़ेगा। यहां उम्मीदवार मैं नहीं, सब कार्यकर्ता है। उन्होंने कहा कि झालावाड़ से मेरा 30 साल पुराना अटूट रिश्ता है, जो जब तक सांस है तब तक रहेगा। उन्होंने कहा कि यहां के लोगों ने उन्हें बहुत प्यार दिया है। बता दें, राजे इस विधानसभा सीट पर 2003 से 2013 तक तीनों विधानसभा चुनाव जीत चुकी हैं। इसके अलावा 1989 से 1999 तक पांच लोकसभा चुनाव झालावाड़-बारां सीट से जीत चुकी हैं। भाजपा के टिकट वितरण से पहले उनकी यह घोषणा इसलिए भी महत्वपूर्ण है, क्योंकि इस बार कयास लगाए जा रहे थे कि राजे इन चुनावों में धौलपुर, राजाखेड़ा या किसी अन्य सीट से चुनाव लड़ सकती हैं। ऐसे में पार्टी और कार्यकर्ताओं में कोई गलत मैसेज नहीं जाए इसलिए मुख्यमंत्री राजे ने टिकट बंटवारे से पहले ही झालरापाटन से चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी है। भाजपा राजस्थान में उन्हीं के चेहरे पर विधानसभा चुनाव लड़ रही हैं।

200 विधानसभा सीटों पर फोकस, 100 पर रहेगा विशेष जोर

मुख्यमंत्री राजे ने कहा कि चुनाव के दौरान मेरा फ़ोकस 200 विधान सभा सीटों पर ही रहेगा। इनमे से 100 सीटों पर विशेष ध्यान देना है है। राजे ने कहा कि हम पूर्ण बहुमत के साथ राजस्थान में एक बार फिर से ऐतिहासिक जीत दर्ज कराएंगे। उन्होंने कहा कि आज भाजपा कार्यकता ने ये स्थिति पैदा कर दी है कि प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार राहुल गांधी को विधानसभा वार सभाएं करनी पड़ रही है। उन्हें पता नहीं कि झालावाड़-बारां से मेरा अटूट बंधन है। मुख्यमंत्री ने बूथ सम्मेलन में कार्यक्रम की शुरूआत से पहले राजस्थान के पूर्व राज्यपाल मदन लाल खुराना को श्रद्धांजलि दी और दो मिनट का मौन रखा।

Read More: जयपुर में बीजेपी का मंथन आज, कई विधायकों के टिकट पर मंडरा रहा संकट

भाजपा बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन में ये भी रहे उपस्थित

इस अवसर पर बारां-झालावाड़ सांसद दुष्यंत सिंह, निहारिका राजे, जन अभाव अभियोग निराकरण समिति के अध्यक्ष श्रीकृष्ण पाटीदार, राजस्थान लोक सेवा आयोग के पूर्व अध्यक्ष श्याम सुंदर शर्मा, पूर्व विधायक निर्मल सकलेचा, प्रदेश महामंत्री बीरमदेव सिंह, जिला अध्यक्ष संजय जैन ताऊ, मुकेश चेलावत सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.