राजस्थान: शिक्षा विभाग स्कूलों में बनाएगा ‘भारत दर्शन’ गलियारा

राजस्थान में शिक्षा विभाग द्वारा पिछले कुछ समय से लगातार नवाचार किए जा रहे हैं। इसी बीच अब प्रदेश के स्कूलों में ‘भारत दर्शन’ गलियारा स्थापित करने की ख़बर है। दरअसल, शिक्षा विभाग की ओर से अब प्रदेश के सरकारी सभी स्कूलों में भारत दर्शन गलियारा बनाया जाएगा। कुछ स्कूलों में इसकी शुरुआत भी हो चुकी है। इस गलियारे में देश के इतिहास में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने वाले नायकों के जीवन चरित्र को दर्शाया जाएगा। स्कूलों में भारत महान की अवधारणा पर बनने वाले इस गलियारे में देशभक्ति और ध्येय वाक्य लिखने के साथ महापुरुषों की तस्वीरें लगाई जाएंगी।

news of rajasthan

File-Image: राजस्थान: शिक्षा विभाग स्कूलों में बनाएगा ‘भारत दर्शन’ गलियारा- शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी.

बच्चों में राष्ट्रप्रेम की भावना को मिलेगा बढ़ावा: शिक्षा राज्य मंत्री देवनानी

प्रदेश के शिक्षा राज्य मंत्री वासुदेव देवनानी का गलियारों की स्थापना पर कहना है कि बच्चों में राष्ट्रप्रेम की भावना को बढ़ावा देने के लिए पाठ्यक्रमों में महापुरुषों को शामिल करने का प्रयास किया गया है। उन्होंने कहा कि अब देश के इतिहास में अपना योगदान देने वाले नायकों के जीवन चरित्र से अवगत कराने के लिए भारत दर्शन गलियारे बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि गलियारों की जालोर जिले समेत कई अन्य स्कूलों में इसकी शुरूआत की गई है। आने वाले दिनों में अन्य स्कूलों में भी भारत दर्शन गलियारे बनाए जाएंगे।

Read More: गंगापुर सिटी को इसी माह से मिलने लगेगा चम्बल का पानी: सीएम राजे

गौरतलब है कि वर्तमान सरकार के सत्ता में आने के बाद से शिक्षा पर विशेष जोर दिया जा रहा है। राजे सरकार के कार्यकाल में 26वें स्थान से राजस्थान स्कूली शिक्षा में नंबर 2 बन गया है। शिक्षा विभाग की ओर से स्कूलों में नामांकन बढ़ाने के साथ ही गुणवत्तापूर्ण शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए नवाचार किए जा रहे हैं। इन नवाचारों का काफी सकारात्मक प्रभाव भी स्कूलों में देखने को मिला है। इससे सरकारी स्कूलों का नामांकन बढ़ने के साथ ही परीक्षा परिणामों पर भी सकारात्मक असर पड़ा है। अब सरकारी स्कूलों के परीक्षा परिणाम पहले के मुकाबले बेहतर हुए हैं। राज्य सरकार अच्छा परिणाम देने वाले शिक्षकों को सम्मानित कर रही है। साथ ही स्कूलों की भी ग्रेडिेंग की जा रही है।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.