news of rajasthan

news of rajasthan

राजस्थान विधानसभा चुनाव सिर पर हैं और नामांकन की जांच शुरु हो गई है। पहले दिन प्रदेश में 170 विधानसभा सीटों पर 421 प्रत्याशियों के 613 नामांकन रद्द हो गए। नामांकन रद्द की वजह किसी प्रकार की कमी या गलती नामांकन रही। पाली के मारवाड़ जंक्शन में सर्वाधिक 15 नामांकन पत्र रद्द हुए हैं। बता दें, राजस्थान चुनावों में प्रदेश की कुल 200 विधानसभा सीटों पर 3295 उम्मीदवारों ने 4288 नामांकन पत्र दाखिल किए थे। अब 2874 प्रत्याशियों के 3675 नामांकन सही पाए गए हैं। प्रदेश में 30 विधानसभा क्षेत्र ऐसे भी रहे जहां एक भी नामांकन रद्द नहीं हुआ है।

बात करें प्रदेश की सबसे बड़ी विधानसभा जयपुर की तो यहां 19 विधानसभा क्षेत्रों में 506 प्रत्याशियों ने 632 नामांकन दाखिल किए। जांच में 439 प्रत्याशियों के नामांकन सही पाये गए तथा 67 प्रत्याशियों के नामांकन पत्र खारिज किए गए हैं। विराटनगर एवं शाहपुरा विधानसभा क्षेत्र में जांच के दौरान सभी प्रत्याशियों के नामांकन पत्र सही पाए गए।

Read more: कांग्रेस ने सब्जी की तरह आपस में टिकट बांटे, नहीं आएगी सत्ता में-पूर्व कांग्रेसी मंत्री

जयपुर की जिन विधानसभाओं से नामांकन रद्द हुए, उनके नाम हैं…

  • किशनपोल से 11
  • आदर्श नगर से 13
  • वि़द्याधर नगर से 4
  • सिविल लाइन्स से 6
  • सांगानेर से 2
  • हवामहल से 2
  • झोटवाडा से 3
  • मालवीय नगर से 1
  • बगरू से 8
  • बस्सी से 2
  • दूदू से 2
  • कोटपूतली से 2
  • आमेर से 2
  • चाकसू से 3
  • फुलेरा से 1
  • जमवारामगढ़ से 1 तथा
  • चौमूं से 4 प्रत्याशियों के नामांकन पत्र जांच में सही नही पाए गए।

राजस्थान विधानसभा चुनाव-2018 कार्यक्रम के अनुसार 21 और 22 नवम्बर को नाम वापस लिए जा सकेंगे। इसके तुरंत बाद उम्मीदवारों को निर्धारित चुनाव चिन्ह का आवंटन किया जाएगा। इसके बाद चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थी की सूची 7A के प्रारूप के अनुसार तैयार की जाएगी। प्रारूप के अनुसार उम्मीदवार का नाम निर्धारित होता है और उसी क्रम में ईवीएम के बैलेट पेपर पर छापा जाता है। मतदान 7 दिसम्बर को प्रातः 8 बजे से सायं 5 बजे तक होगा तथा मतगणना 11 दिसम्बर को की जाएगी।

Read more: पायलट के खिलाफ ट्रंप कार्ड साबित होंगे भाजपा के इकलौते मुस्लिम उम्मीदवार यूनुस खान

LEAVE A REPLY