अपने आप को देश की पार्टी कहले वाली कांग्रेस की हालत एक दिन ऐसी हो जाएगी। ये तो कांग्रेस की स्थापना करने वालों ने भी नहीं सोची होगी। आज कांग्रेस को नया तमगा मिला है। कांग्रेस को तमगा मिला है, “पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस” का। हाँ… ये बात बिल्कुल सत्य है। कांग्रेस को ये तमगा देने वाला कोई और नहीं खुद कांग्रेसी नेता हैं। जो आये दिन अपने राष्ट्रिय अध्यक्ष, महान क्रांतिकारी नेता श्रीमान राहुल गांधी के शानदार बयानों से अभिभूत रहते हैं। अभी जब आतंकवाद के हमलों से पूरा देश दहल गया था। तो भारत ने उन हमलों का बदला सर्जिकल एयर स्ट्राइक करके लिया था। उस वक़्त कांग्रेस के महान विचारधाराक कहते रहे कि बालाकोट कहाँ है। वायु सेना ने किस जगह पर हमला किया। कहीं पाकिस्तान पर आक्रमण तो नहीं कर दिया। तथा हमले में कितने आतंकवादी मारे गए। केंद्र सरकार इसके सबूत पेश करे।

पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस ने पहले भी मांगे सबूत

राहुल और प्रियंका गांधी
राहुल और प्रियंका गांधी

कांग्रेस पार्टी को जनता का साथ देने वाली बताने वाले राहुल गांधी। पहले भी वर्ष 2016 में भारत द्वारा आतंकवादियों पर की गयी सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग चुके हैं। उन्होंने कहा था की मोदी सरकार ने अगर सर्जिकल स्ट्राइक की है तो उसके प्रमाण दे। फ़ोटो दिखाए। या कोई वीडियो क्लिप हो तो वो दिखाए। अभी भी वो यही कह रहे हैं। या तो केंद्र सरकार, आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के ठिकाओं पर की गयी सर्जिकल एयर स्ट्राइक के सबूत पेश करे। और ये भी बताये कि कितने आतंकी मारे गए। या फिर हम ये कहते हैं कि भारतीय सेना ने पाकिस्तान पर आक्रमण किया है। जिससे युद्ध के जैसे हालात पैदा हो गए । जो काम पाकिस्तान को करना चाहिए था। वो कांग्रेस कर रही है। इससे तो यही साबित ना की कांग्रेस, पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस है। इसीलिए वो भारत सरकार का साथ देने की बजाय सबूत मांगते हैं।

कांग्रेस को पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस कहने वाले ख़ुद कांग्रेस नेता

पार्टी को पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस बता पद से इस्तीफ़ा दिया
पार्टी को पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस बता पद से इस्तीफ़ा दिया

सर्जिकल एयर स्ट्राइक पर सबूत मांगने को लेकर ख़फ़ा एक कांग्रेसी नेता ने ही कहा था, पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस। बिहार कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता विनोद शर्मा ने कांग्रेस को पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस कहते हुए प्रवक्ता पद और पार्टी से त्यागपत्र दे दिया। विनोद शर्मा ने कहा जिस पार्टी को जीवन के तीस वर्ष दिए। उसी पार्टी के बड़े नेता देश के दुश्मनों के ख़िलाफ़ की गयी कार्रवाई का ही साबित करने की बात करते हैं। जिसकी वजह से आम लोग पाकिस्तान का एजेंट के रूप में कांग्रेस को लोग देखने लगे हैं। ऐसे में कांग्रेस पार्टी के साथ और ज़्यादा समय तक रहना मुश्किल है। उन्होंने कहा की इंदिरा गांधी के समय भारत-पाक युद्ध में जब भारत की जीत हुयी। तो अटल बिहारी वाजपेयी सहित तमाम भाजपा के नेताओं ने कांग्रेस की केंद्र सरकार की प्रसंशा करते हुए देश पर गर्व जताया था। और ये सबूत मांग रहे हैं।

कांग्रेस, पाकिस्तानी एजेंट कांग्रेस वाली हरकतों की वजह से ही दिवालिया होने की कगार पर है

पार्टी फंड की कमी से जूझ रही कांग्रेस
पार्टी फंड की कमी से जूझ रही कांग्रेस

कांग्रेस के तमाम बड़े नेता जो इस प्रकार के बयान देते हैं। उनकी वजह से ही आज कांग्रेस की ऐसी हालत है। जिन क्रन्तिकारी नेताओं ने कांग्रेस की स्थापना की। उनकी विचार धारा तो देश-भक्ति और प्रेम की थी। लेकिन जब से गांधी परिवार के हाथों कांग्रेस की कमान आयी, तब से कांग्रेस और देश दोनों ख़स्ता हाल हो गए। आज स्थिती इस क़दर बिगड़ चुकी हैं, कि कांग्रेस पार्टी दिवालिया होने वाली है। पार्टी को चंदा नहीं मिल रहा। कांग्रेस के समस्त बड़े नेता पार्टी की सदस्यता शुल्क नहीं भर रहे। पार्टी का ख़जाना ख़ाली है। कांग्रेस के कुछ प्रतिष्ठित नेताओं को बार-बार आग्रह करके कार्यकर्ताओं और आम जनता से चंदा इकठ्ठा करना पड़ रहा है। जिसका नतीजा हमने हाल के विधानसभा चुनावों में देखा था। जो कांग्रेस 150 से ज़्यादा सीटों का दावा कर रही थी। वो कांग्रेस बड़ी मुश्किल से राजस्थान में सरकार बना पायी है।

LEAVE A REPLY