news of rajasthan
Officers can change the state picture with their services: CM Raje.

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने कहा कि किसी भी प्रदेश का भविष्य वहां के अधिकारियों की कार्यशैली से तय होता है। उन्होंने कहा कि अधिकारी गेम चेंजर हैं, जो अपनी सेवाओं से प्रदेश की तस्वीर बदल सकते हैं। सीएम राजे कहा कि जिस प्रकार टीम राजस्थान ने बेहतर कार्य करते हुए प्रदेश को अग्रणी राज्यों में शामिल करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है, वह सराहनीय है। मुख्यमंत्री ने शनिवार को इंदिरा गांधी पंचायतीराज संस्थान में राजस्थान प्रशासनिक सेवा परिषद् के अधिवेशन को संबोधित करते हुए यह बात कही।

news of rajasthan
Image: अधिकारी अपनी सेवाओं से बदल सकते हैं प्रदेश की तस्वीर: सीएम राजे.

राजस्थान की प्रगति को देख दूसरे राज्य अपना रहे हैं हमारे नवाचार

सीएम राजे ने कहा कि अधिकारी और जनप्रतिनिधि एक ऐसा परिवार है जिसे जनता की सेवा का विशेष अवसर मिला है। इस पर खरा उतरकर हम राजस्थान का भविष्य संवार सकते हैं। मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि एक समय था जब हम सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवाचारों को जानने के लिए दूसरे राज्यों मे जाते थे, लेकिन पिछले चार वर्ष में इस क्षेत्र में राजस्थान ने इतनी प्रगति की है कि देश के दूसरे राज्य हमारे नवाचारों को अपना रहे हैं। यह सब आप सबकी कार्य कुशलता से ही सम्भव हुआ है। इसी तरह प्रदेश में आप सबके सहयोग से शिक्षा, भामाशाह, मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन, न्याय आपके द्वार, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, अन्नपूर्णा रसोई, स्वच्छ भारत मिशन सहित कई योजनाएं सफलतापूर्वक लागू हुईं हैं, जिनसे प्रदेश का मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (डीबीटी) के मामले में तो हम देश में लीडर हैं।

Read More: डोमेस्टिक में पहले स्थान पर रहे जयपुर एयरपोर्ट को एपीआई से मिला अवॉर्ड

अधिकारी फील्ड में अधिक से अधिक समय बिताएं और लोगों की समस्याओं दूर करें

सीएम राजे ने कहा कि अधिकारी फील्ड में अधिक से अधिक समय बिताएं और लोगों के बीच जाकर उनकी समस्याओं को दूर करें। मुख्य सचिव एनसी गोयल ने कहा कि राज्य सरकार की योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन आप सब अधिकारियों के बिना सम्भव नहीं है। उन्होंने कहा कि आपके सामूहिक प्रयासों से ही योजनाओं को गति मिल सकती है। राज्य सरकार ने जो पैसा राहत, बाढ़ सहायता, कृषि अनुदान और मुआवजों के लिए स्वीकृत कर दिया है, उसे तत्काल प्रभाव से पात्र लाभार्थियों तक पहुंचाएं ताकि उन्हें समय पर इसका लाभ मिल सके। उन्होंने कहा कि अधिकारी राज्य सरकार की बजट घोषणा के त्वरित क्रियान्वयन पर भी ध्यान दें। राजस्थान प्रशासनिक सेवा परिषद के अध्यक्ष पवन अरोड़ा ने परिषद की गतिविधियों की जानकारी दी और सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर शासन सचिव कार्मिक भास्कर सावंत तथा परिषद के अन्य पदाधिकारी और प्रदेशभर से आए आरएएस अधिकारी उपस्थित थे।

 

LEAVE A REPLY