एमडीएस विश्वविद्यालय के छात्रसंघ पदाधिकारियों से मिली मुख्यमंत्री राजे

news of rajasthan

महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालयए अजमेर के छात्रसंघ पदाधिकारियों से भेंट करते हुए मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे।

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने आज महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्वविद्यालय अजमेर के छात्रसंघ के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों से मुख्यमंत्री निवास पर मुलाकात की। पदाधिकारियों का यह दल मुख्यमंत्री निवास पर एक शिष्टाचार भेंट करने पहुंचा था। इस मौके पर मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने विश्वविद्यालय के सभी नवनिर्वाचित छात्रसंघ पदाधिकारियों को शुभकामनाएं दी। इस दौरान विश्वविद्यालय छात्रसंघ के अध्यक्ष लोकेश गोदारा के साथ छात्रसंघ महासचिव राहुल राजपुरोहित, उपाध्यक्ष शिवनेश सिंह जादौन, संयुक्त सचिव निहारिका उपाध्याय तथा पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष मोहित जैन सहित अन्य छात्र नेता उपस्थित रहे।

बता दें, हाल ही में राजस्थान छात्रसंघ चुनाव 2018 का परिणाम घोषित हुआ है। छात्र राजनीति के इन चुनावों में प्रदेश के अधिकांश महाविद्यालयों सहित विश्वविद्यालयों में एबीवीपी (अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद) के प्रत्याशियों ने जीत हासिल की है। राजस्थान विश्वविद्यालय में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर विनोद जाखड़ ने अध्यक्ष पद पर जीत दर्ज की है। राजस्थान छात्रसंघ चुनाव के चुनावी इतिहास में पहली पार किसी एससी प्रत्याशी ने अध्यक्ष पद पर जीत दर्ज की है।

Read more: समाज का आशीर्वाद लेकर क्या प्रो कबड्डी लीग खेलेंगे सचिन पायलट!

इसी प्रकार उपाध्यक्ष पद पर निर्दलीय रेणू चौधरी (3125 वोट), महासचिव पद पर निर्दलीय आदित्य प्रताप सिंह (2854) और संयुक्त सचिव पर एबीवीपी की मीनल शर्मा (3347) को जीत मिली है। शोध छात्र प्रतिनिधि के पद पर रामसिंह सामोता विजयी हुए हैं। राजस्थान छात्रसंघ चुनाव 31 अगस्त को हुए थे। राजस्थान यूनिवर्सिटी में 11516 विद्यार्थियों ने अपने मत का इस्तेमाल किया। जोधपुर संभाग के महाविद्यालयों में 10 सितम्बर को वोटिंग हुई थी। राजस्थान छात्रसंघ चुनाव में 4 पदों के लिए कुल 28 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे। अध्यक्ष पद के लिए एबीवीपी और एनएसयूआई सहित 6, उपाध्यक्ष व महासचिव के लिए 7-7 और संयुक्त सचिव पद के लिए 8 प्रत्याशियों ने दावेदारी दिखाई।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.