राजस्थान का पहला पायलट, क्रू-मेंबर ट्रेनिंग सेंटर बनेगा किशनगढ़ एयरपोर्ट

pilot and cru memeber traning center in Ajmer

प्रदेश की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने किशनगढ़ एयरपोर्ट का उद्घाटन हाल ही में किया है। इस एयरपोर्ट को एडवांस टेकनोलॉजी और नई डिजाइन तकनीक पर तैयार किया गया है। नेशनल के साथ इंटरनेशनल फ्लाइट की तैयारियां भी यहां की जा रही है। अजमेर के निवासियों के लिए किशनगढ़ एयरपोर्ट खुशियों की तरह आया है। लेकिन इस एयरपोर्ट में एक खास बात और भी है। किशनगढ़ एयरपोर्ट को शिड्यूल उड़ान के साथ ही प्रशिक्षण केन्द्र भी बनाया जाएगा। यहां पायलट व क्रू-मेंबर का ट्रेनिंग सेंटर हब तैयार किया जाने वाला है। इसके लिए गुजरात फ्लाइंग स्कूल व ग्लोगल कनेक्ट एयर पंतनगर ने एएआई से आवेदन किया है। खास बात यह भी है कि ऐसा करने वाला किशनगढ़ एयरपोर्ट पूरे राज्य में पहला एयरपोर्ट है। इससे यहां के युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।

दो एयरक्राफ्ट हमेशा रहेंगे तैयार

किशनगढ़ एयरपोर्ट पर दो एयरक्राफ्ट हमेशा तैयारी के साथ मौजूद रहेंगे। यह एयरक्राफ्ट टू सीटर या 3 सीटर हो सकते हैं। इनके लिए हैंगर का कार्य भी संबंधित कंपनी द्वारा ही किया जाएगा। इन एयरक्राफ्ट के माध्यम से ही पायलट व क्रू-मेंबर को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

इनका कहना है कि :

राजस्थान में एक पायलट व क्रू-मेंबर के प्रशिक्षण का एक भी केन्द्र नहीं है। किशनगढ़ एयरपोर्ट का विस्तार इसके लिए किया गया है। किशनगढ़ एयरपोर्ट को पायलट व क्रू-मेंबर का प्रशिक्षण का केन्द्र बनाया जाएगा। यहां पायलट को उड़ान से संबंधित और क्रू-मेंबर को एयरक्राफ्ट मेंटिनेंस से संबंधित प्रशिक्षण दिया जाएगा। ताकी किसी भी शिड्यूल उड़ान के समय एयरक्राफ्ट में किसी भी प्रकार की खराबी आने की स्थिति में उसका निस्तारण किया जा सके।
– संजीव जिंदल, परियोजना महासचिव

read more: सहायता राशि के लिए नहीं करना होगा इंतजार, 3 महीने में मिलेगा मुआवजा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.