जायल की जनता के मीठे पानी के सपने को हमने पूरा किया: सीएम राजे

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने तीन दिवसीय नागौर जिले के दौरे के पहले दिन जायल को मीठे पानी की बड़ी सौगात दी। उन्होंने कहा कि जिस सपने के पूरा होने की आस में पीढ़ियां गुजर गईं, जायल की जनता के मीठे पानी के उस सपने को हमने पूरा किया है। अब यहां की गांव-ढाणियों को हिमालय का मीठा पानी मिलेगा। करीब 22 साल पहले 1996 में हमारी ही सरकार ने नागौर जिले के लोगों को मीठा पानी उपलब्ध कराने का जो बीड़ा उठाया था, मुझे बहुत खुशी है कि वह पूरा हुआ है। सीएम राजे मंगलवार को जायल में राजस्थान ग्रामीण पेयजल एवं फ्लोराइड निराकरण परियोजना के द्वितीय चरण के तहत जायल क्षेत्र के 120 गांवों को पेयजल वितरण कार्य के शुभारम्भ समारोह को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने मोटर का बटन दबाकर जायल हैडवर्क्स का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री राजे ने इस अवसर पर यहां 1394 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

news of rajasthan

Image: जायल की जनता के मीठे पानी के सपने को हमने पूरा किया: सीएम राजे.

हमारी सरकार होती तो 8 साल पहले ही पूरा कर चुके होते काम: मुख्यमंत्री

सीएम राजे ने कहा कि अपनी पिछली सरकार के समय 2003 से 2008 के दौरान मैंने जायल के लोगों की पीड़ा को नजदीक से देखा और इसे दूर करने के लिए मातासुख क्षेत्रीय जलप्रदाय योजना के जरिए शुद्ध जल पहुंचाने का काम शुरू किया। यदि इसके बाद भी हमारी ही सरकार होती तो यह काम हम 2010-11 तक पूरा कर चुके होते। वर्ष 2015 में हमने ही नागौर लिफ्ट परियोजना के दूसरे चरण के तीन पैकेजों का कार्य शुरू किया था। दूसरे चरण से नागौर के सात कस्बों और 986 गांवों को मीठा पानी मिलेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि नागौर राजस्थान का दिल होने के साथ ही मेरा परिवार भी है। आप लोगां से किए वादों को पूरा करने में मैंने कोई कसर नहीं छोड़ी है। सड़क और शिक्षा से लेकर पानी तक, हर क्षेत्र में जो भी वादे किए, उन्हें पूरा करने में हम कभी पीछे नहीं हटे। हमने साढ़े चार साल में नागौर जिले में विकास कार्यों के लिए 10 हजार करोड़ रूपए दिए हैं। जबकि पिछली सरकार के पूरे पांच साल में मात्र चार हजार करोड़ रूपए के ही काम हुए थे।

Read More: राजस्थान में पांच नए मेडिकल कॉलेज सत्र 2018-19 से ही शुरू हो जाएंगे: चिकित्सा मंत्री

ऋण माफी से 30 लाख से अधिक किसान भाइयों को होगा फायदा

सीएम राजे ने राज्य सरकार द्वारा किसानों सहित सभी वर्गों के हित में किए गए फैसलों का जिक्र करते हुए ने कहा कि हमारी सरकार ने किसानों की ऋण माफी का जो ऐतिहासिक निर्णय लिया है, उससे 30 लाख से अधिक हमारे किसान भाइयों को फायदा होगा। इसी तरह सहकारिता विभाग के माध्यम से किसानों को 80 हजार करोड़ रूपए से अधिक के ऋण उपलब्ध कराए गए हैं जो अपने आप में रिकॉर्ड है। अनुसूचित जाति और जनजाति सहकारी विकास निगम की ओर से दिए गए दो लाख रूपये तक के ऋण भी माफ किए हैं, जिससे बड़ी संख्या में युवाओं को राहत मिली है। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने मेधावी छात्राओं को स्कूटी तथा दिव्यांगों को मोटराइज्ड ट्राइसाइकिल भी वितरित की।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.