जयपुर डिस्कॉम के घाटे में 1286 करोड़ की हुई कमी

जयपुर डिस्कॉम प्रबंधन द्वारा विभिन्न स्तरों पर किए जा रहे प्रभावी प्रयासों के सकारात्मक परिणाम अब प्राप्त होना शुरु हो गए हैं। दरअसल, गत एक साल में कुशल वित्तीय प्रबंधन के कारण जयपुर डिस्कॉम के घाटे में लगभग 1286 करोड़ रुपए की बड़ी कमी आई है। इस ओर  लगातार प्रयास किए जा रहे हैं कि चालू वित्त वर्ष के अंत तक शेष बचे घाटे को समाप्त कर डिस्कॉम को लाभ की स्थिति में लाया जा सके। अच्छी बात यह है कि इसका सबसे अधिक लाभ उपभोक्ताओं को ही मिलने वाला है।

news of rajasthan

एक साल में जयपुर डिस्कॉम के घाटे में 1286 करोड़ की हुई है कमी.

कुशल वित्तीय प्रबंधन के सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं सामने

जयपुर डिस्कॉम के प्रबन्ध निदेशक आर.जी.गुप्ता ने बताया कि कुशल वित्तीय प्रबंधन के अब सकारात्मक परिणाम सामने आने लगे हैं। उन्होंने कहा कि दिसम्बर, 2016 में घाटा 1714 करोड रुपए था, यह कम होकर दिसम्बर, 2017 में 428 करोड़ रुपए रह गया है। गुप्ता ने बताया कि निगम के अधिकारियों व कर्मचारियों की कड़ी मेहनत और टीम भावना से किए गए कार्य की बदौलत यह उपलब्धि हासिल हुई है। जयपुर डिस्कॉम के घाटे में कमी के लिए प्रमुख रुप से मुख्यमंत्री विद्युत सुधार अभियान के अन्तर्गत चलाए जा रहे लॉस रिडक्सन प्रोग्राम के तहत किए जा रहे विशेष प्रयासों की वजह से दिसम्बर, 2017 तक जयपुर डिस्कॉम का टी एण्ड डी लॉस 4.59 प्रतिशत कम हो गया है। दिसम्बर, 2016 में टी एण्ड डी लॉस 25.04 प्रतिशत था जो दिसम्बर, 2017 में कम होकर 20.45 प्रतिशत पर आ गया है। एटीएण्डसी लॉस में भी सुधार होकर इसमें 5.59 प्रतिशत की कमी आई है और यह 30.40 प्रतिशत से कम होकर 24.81 प्रतिशत के स्तर पर आ गया है।

Read More: राजस्थान के इतिहासकारों की ‘पद्मावत’ को हरी झंडी, अब रिलीज हो पाएगी फिल्म?

स्क्रेप नीलामी से 60 करोड़ और पीडीसी उपभोक्ताओं से 69 करोड़ किए वसूल 

स्वच्छ भारत अभियान के तहत जयपुर डिस्कॉम में विभिन्न कार्यालयों में पड़े हुए स्क्रेप को एक जगह एकत्रित कर इसकी नीलामी से डिस्कॉम ने अब तक लगभग 60 करोड़ रुपए प्राप्त किए हैं। साथ ही पीडीसी उपभोक्ताओं से भी अब तक 69 करोड़ वसूल किए जा चुके हैं। 30 जून, 2016 से पूर्व की लंबित वीसीआर के निस्तारण की योजना से भी 16 करोड़ रुपए के अतिरिक्त राजस्व की प्राप्ति हुई है। जयपुर डिस्कॉम द्वारा पावर परचेज के बिलों का समय पर भुगतान करके 100 करोड़ रुपए की रिबेट प्राप्त की है जो अब तक की सर्वाधिक रिबेट भी है। इसके अतिरिक्त सितम्बर, 2016 में टेरिफ बढोतरी का प्रभाव भी इस वर्ष में अधिक आया है। कुल मिलाकर एक साल में जयपुर डिस्कॉम के घाटे में 1286 करोड़ की कमी हुई है जो कि बड़ी राहत की बात है।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.