भामाशाह डिजिटल परिवार योजना सबसे पहले जयपुर में, गोविन्दगढ़ में लगेगा पहला शिविर

news of rajasthan

Image source: twitter

राजस्थान सरकार की हाल में शुरु हुई भामाशाह डिजिटल परिवार योजना की शुरुआत प्रदेश की राजधानी जयपुर से हो रही है। आज (शुक्रवार, 7 सितम्बर) योजना का पहला शिविर शहर के गोविंदगढ़ पंचायत समिति मुख्यालय पर लगने जा रहा है। योजना के तहत भामाशाह कार्ड धारकों को स्मार्टफोन व इंटरनेट कनेक्शन के लिए एक हजार रुपए का अनुदान प्रदेश सरकार द्वारा दिया जा रहा है। भामाशाह डिजिटल परिवार योजना के तहत पात्र लोगों को मोबाईल फोन वितरण के लिए 7 से 25 सितम्बर की अवधि में प्रत्येक ब्लॉक स्तर पर शिविर लगाये जाएंगे। योजना के तहत प्रदेशभर में एक करोड़ लोगों को स्मार्टफोन दिए जाएंगे। जयपुर में जिले में लगभग 7 लाख 14 हजार परिवारों को मोबाईल फोन दिये जायेंगे। इसके लिए जयपुर जिले की पंचायत समिति मुख्यालयों एवं बड़े कस्बों/ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर सितम्बर माह में 35 शिविर आयोजित होंगे।

सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग के उप निदेशक रितेश कुमार शर्मा ने बताया कि राज्य सरकार की भामाशाह डिजिटल परिवार योजना के अन्तर्गत उन पात्र परिवारों को मोबाईल फोन दिये जा रहे है, जो परिवार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम एवं अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ ले रहे है। सरकार की ओर से मोबाईल के लिए प्रत्येक पात्र परिवार को एक हजार रुपए दो किस्तों में उनके भामाशाह कार्ड से जुड़े बैंक अकाउंट में जमा होंगे। पहली किस्त के 500 रुपए फोन खरीदने के लिए एवं दूसरी किस्त इंटरनेट सेवाओं के लिए होगी। दूसरी किस्त से पहले उपभोक्ता को फोन पर सरकारी सेवाओं की मोबाईल एप डाउनलोड करने होगी।

योजनान्तर्गत मोबाईल खरीदने के लिए 501 रुपये अमानत राशि लेकर फोन दिया जाएगा। तीन साल बाद मोबाईल लौटाने पर राशि उपभोक्ता को रिफंड कर दी जाएगी। फोन के लिए 99 रुपए प्रति माह के 6 रीचार्ज भी किए जाएंगे जिसमें उपभोक्ता को अनलिमिटेड कॉलिंग, प्रथम तीन माह तक एक जीबी प्रतिदिन डाटा एवं अगले तीन माह 512 एमबी डाटा तथा 600 एसएमएस प्रतिमाह की सुविधा मिलेगी।

Read more: भाजपा जमीनी स्तर पर काम करने वाली ऐसी पार्टी जिसकी विचारधारा पर लोगों का अटूट विश्वास

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.