अलवर जिले में एक करोड़ रूपये से अधिक के विकास कार्यों का हुआ लोकार्पण

राजस्थान सरकार प्रदेश के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। सरकार राज्य में विकास के लिए पहले से ही कई कल्याणकारी योजनाएं चला रही है। इस कड़ी में शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने बुधवार को अलवर जिले की मुण्डावर और किशनगढ़बास क्षेत्र में एक करोड़ 15 लाख रूपये के विकास कार्यों का उद्घाटन किया। मंत्री देवनानी ने विकास कार्यों की समीक्षा भी की।

education-state-minister-devnani

                                             शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने एक करोड़ 15 लाख रूपये के विकास कार्यों का उद्घाटन किया।

एक करोड़ से अधिक के इन विकास कार्यों का किया लोकार्पण: शिक्षा राज्यमंत्री ने अलवर जिले की मुण्डावर पंचायत समिति के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मुंडनवाडा कला में 23.82 लाख रूपये की लागत राशि से बने तीन कक्ष, बासनी में 17.81 लाख रूपये की लागत से निर्मित तीन कक्ष तथा पेहल में 31 लाख रूपये की लागत से बने 4 कक्षों का लोकार्पण पंचायत समिति परिसर से पट्टिका का अनावरण कर किया। इसके बाद मंत्री देवनानी ने किशनगढ़बास पंचायत समिति के स्कूल भवन का उद्घाटन किया जिसमें 14 लाख रूपये की लागत से बने 4 कक्ष, रमसा द्वारा 10 लाख रूपये की लागत से निर्मित 2 कक्षों का लोकार्पण किया। उन्होंने खैरथल के सरकारी स्कूल में सरस्वती प्रतिमा का भी अनावरण किया। मंत्री ने हरसौली रोड स्थित पानी की टंकी का भी लोकार्पण किया।

राजस्थान में लक्ष्य से ज्यादा हुए सरकारी स्कलों में नामांकन: शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में किए गए प्रयोगों से सरकारी स्कूलों में उल्लेखनीय सुधार हुए हैं। पिछले तीन वर्षाे में प्रदेश के सरकारी स्कूलों में नामांकन के लक्ष्य से अधिक नामांकन हुए हैं। देवनानी ने आगे कहा कि राज्य सरकार शिक्षकों की कमी को पूरा करने के लिए जल्दी भर्ती करने जा रही है। सरकार ने विगत तीन वर्षों में अधिक से अधिक माध्यमिक स्कूल खोलने, शिक्षकों को पदोन्नत करने, ​सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए भरसक प्रयास किए हैं। जिसकी बदौलत ही आज सार्थक परिणाम सामने आ रहे हैं।

Read More: राजस्थान सरकार की मदद से कैंसर मरीजों का मुफ्त होगा इलाज

एजुकेशन क्वालिटी पर फोकस करने के निर्देश: ​शिक्षा राज्यमंत्री देवनानी ने विभागीय समीक्षा कर जिला शिक्षा अधिकारी को जिले के सरकारी स्कूलों की शैक्षणिक गुणवत्ता पर विशेष जोर देने के निर्देश दिए। साथ ही जिले के सरकारी स्कलों में नामांकन वृद्धि की दिशा में स्मार्ट प्रयास करने पर जोर दिया। उन्होंने प्रोजेक्ट एकता के माध्यम से सरकारी स्कूलों में कराये जा रहे भौतिक विकास की भी प्रशंसा की। मंत्री देवनानी ने मुख्यमंत्री विद्यादान कोष में दानदाताओं को प्रेरित कर अधिक से अधिक सहयोग राशि दान कराने पर जोर देने के लिए भी कहा।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.