‘डॉटर्स आर प्रीसियस’ अभियान वर्ल्ड रिकॉर्डस इंडिया में दर्ज

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आयोजित किए गए ‘डॉटर्स आर प्रीसियस’अभियान को ‘वर्ल्ड रिकॉर्डस इंडिया’ में दर्ज किया गया है। इस अभिनव पहल को गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स, लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड सहित अन्य रिकॉर्डस में भी दर्ज कराया जा रहा है।
राज्य पीसीपीएनडीटी प्रकोष्ठ एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन राजस्थान द्वारा प्रदेशभर में बुधवार को आयोजित इस कार्यक्रम में 6200 से अधिक शैक्षणिक संस्थानों पर ‘डॉटर्स आर प्रीसियस’ अभियान आयोजित करने, एक साथ 11 लाख 51 हजार युवाओं को एक साथ बेटी बचाओ का संदेश देने के साथ प्रातः 11.30 बजे एक साथ राष्ट्रगान कार्यक्रम को ‘वर्ल्ड रिकॉर्डस इंडिया’ में शामिल किया गया है।

डॉटर्स आर प्रीसियस

पीसीपीएनडीटी के अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी नवीन जैन ने बताया कि बुधवार को प्रदेशभर के 6 हजार से अधिक शैक्षणिक संस्थानों में आयोजित इस महा-अभियान में युवक-युवतियों ने भारी उत्साह के साथ भाग लिया। युवाओं को लगभग दो घंटे की एक जैसी अत्यन्त प्रभावी प्रस्तुति के बाद सभी केन्द्रों पर डॉटर्स आर प्रीसियस की निर्धारित शपथ दिलाई गई। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने खुद इस सफल महा-आयोजन के लिये अध्यक्ष राज्य समुचित प्राधिकारी पीसीपीएनडीटी एवं मिशन निदेशक नवीन जैन एवं सभी डैप रक्षकों को बधाई दी है।

17 नवम्बर, 2017 को आयोजित डैप संवाद-1 के आयोजन के बाद प्रदेशभर में डाटर्स आर प्रीसियस की मशाल की लौ को और तेज करने के लिये राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी के अवसर पर डैप का दूसरा महाजागरुकता दिवस आयोजन करने का निर्णय लिया गया था। इसी दिन इन्हीं स्वयंसेवकों के माध्यम से पूरे राज्य में एक ही दिन और एक ही समय पर 773 केन्द्रों पर जागरूकता संवाद आयोजित कर 1.58 लाख युवाओं को बेटी बचाओ का संदेश दिया गया था। इस विशाल जन-जागरुकता अभियान के इतने बड़े पैमाने पर आयोजन को भी विश्व रिकॉर्ड बुक में शामिल किया गया है।

read more: करणी सेना और राजपूत महिलाओं के जौहर की धमकी के बीच फंसी ‘पद्मावत’

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.