योग की परम्परा ऋषि-मुनियों तक सिमटी, हर जिले में योग पार्क शुरू कर देंगे बढ़ावा: मुख्यमंत्री

news of rajasthan

योग की मुद्रा में बाबा रामदेव के साथ मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे।

स्वस्थ जीवन के लिए हमारी संस्कृति और शास्त्रों में वर्णित योग की महान परम्परा सिर्फ ऋषि-मुनियों तक सिमट गई थी। इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और योग गुरू स्वामी रामदेव ने पुनर्जीवित किया। आज पूरी दुनिया योग की कायल हो चुकी है। अब योग को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश के हर जिले में योग पार्क शुरू किए जाएंगे। यह कहना है राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे का। मुख्यमंत्री राजे आज अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर कोटा के आरएसी ग्राउंड में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह को सम्बोधित कर रही थीं। आज कोटा में आयोजित समारोह में 1.05 लाख से अधिक लोगों ने योगभ्यास में भाग लिया है। समारोह में योग गुरू बाबा रामदेव ने विभिन्न योग क्रियाओं, प्राणायाम तथा आसनों का अभ्यास कराया।

स्वस्थ जीवन और स्वस्थ शरीर के लिए योग ही सरल मंत्र है। प्रधानमंत्री मोदी ने पूरे विश्व को योग का महत्व बताया है। आज विश्व के 43 मुस्लिम देशों सहित 177 देशों ने योग को अपनाया है और योग गुरू बाबा रामदेव के 30 वर्ष के प्रयासों से आज करोड़ों लोगों की दिनचर्या का अभिन्न अंग बन गया है। – मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे

हमारी संस्कृति वसुधैव कुटुम्बकम्

news of rajasthan

news of rajasthan

उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति ’वसुधैव कुटुम्बकम्’ भाव के साथ सम्पूर्ण विश्व को एक परिवार मानती है। इस भाव को योग ने साकार कर दिया है। व्यक्ति तनाव से मुक्त रहता है तो उसमें प्रेम भाव बढ़ जाता है। राजे ने कहा कि कोटा में योग का महत्व इसलिए भी बढ़ जाता है क्योंकि यहां लघु भारत बसता है। देश के कोने-कोने से छात्र यहां पढ़ने आते हैं जिनमें कड़ी प्रतिस्पर्धा और आगे बढ़ने की होड़ के कारण तनाव आ जाता है और इस तनाव को दूर करने के लिए योग से बेहतर कुछ नहीं।

योगाभ्यास का बना विश्व कीर्तिमान

news of rajasthan

news of rajasthan

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे और योग गुरू बाबा रामदेव की मौजूदगी में आयोजित राज्य स्तरीय योग दिवस समारोह में योगाभ्यास (योगा लेसन) का विश्व कीर्तिमान बना। समारोह में 1 लाख 5 हजार से अधिक लोगों ने एक साथ योग कर यह कीर्तिमान स्थापित किया। गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स के प्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री राजे, योग गुरू बाबा रामदेव और जिला कलक्टर गौरव गोयल को विश्व कीर्तिमान का प्रमाण पत्र प्रदान किया।

Read more: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस-कोटा में 2 लाख लोगों ने एक साथ योगाभ्यास कर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.