बजट 2018: मुख्यमंत्री के पिटारे से निकलेंगी कई योजनाएं, रोजगार-किसानों को होगा समर्पित

news of rajasthan

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे

मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे अपने वर्तमान कार्यकाल का 5वां और अंतिम बजट आज पेश करेंगी। बजट 2018 हर मायने में खास रहेगा क्योंकि इसी साल राजस्थान में विधानसभा चुनाव होने हैं। चूंकि यह चुनावी साल है, ऐसे में बजट 2018 थोड़ा बहुत पॉपुलिस्ट हो सकता है। गांव, गरीब और किसानों के लिए कई बड़े एलान किए जाने की पूरी उम्मीद है। राजस्थानवासियों को प्रदेश में कुछ नए जिलों की सौगात भी मिलने की संभावना जताई जा रही है। इसके साथ ही चाइल्ड केयर लीव की घोषणा यहां हो सकती है। साथ ही सरकारी कर्मचारियों का मानदेय बढ़ाने की खुशखबरी भी मुख्यमंत्री बजट 2018 में ला सकती है। बड़े खर्च वाली घोषणाओं के लिए गुंजाइश कम है। बजट में सबसे ज्यादा फोकस सड़क और रोजगार पर होगा।

सुबह 11 बजे खुलेगा बजट 2018 का पिटारा

जयपुर विधानसभा भवन में सुबह 11 बजे से बजट 2018 पेश किए जाने की शुरूआत होगी। इस दौरान मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे का करीब 2.30 घंटे का बजट भाषण होगा। सदन में भाजपा विधायकों के समर्थन से किसी भी योजना पर विरोध नहीं होगा, ऐसा होगा निश्चित है। बजट 2018 में रोजगार, कर्ज माफी और स्वास्थ्य सुरक्षा के साथ सरकारी स्कूल—कॉलेज और नई सड़कों के निर्माण से जुड़ी नई सयोजनाएं भी सामने आ सकती हैं। बाड़मेर रिफाइनरी को लेकर भी कोई बड़ी घोषणा हो सकती है।

क्या हो सकता है खास

  • सरकार डीडवाना और ब्यावर को जिला बनाने की घोषणा हो सकती है।
  • सरकारी विभागों में करीब एक लाख पद खाली हैं। पद भर्ती की घोषणा संभव।
  • 70 हजार से अधिक विभिन्न संवर्ग की नौकरियों की घोषणाएं।
  • अर्जुन अवार्डी और खिलाड़ियों के लिए नौकरियों में सीधी भर्ती का ऐलान।
  • किसानों को मिल सकती है कर्ज माफी की सौगात।
  • राजस्थान निवेश प्रोत्साहन नीति को नए रूप में लागू करने की घोषणा संभव।
  • एमएसएमई सेक्टर के लिए आ सकती है नई सौगात।
  • स्वास्थ्य बीमा योजना का दायरा 3 लाख से बढ़कर 5 लाख हो सकता है।
  • बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के तहत 14 जिलों में खुल सकते हैं महिला शक्ति केंद्र।
  • 21 उपखंडों में कॉलेज खोलने की घोषणा। उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी पहले ही बयान दे चुकी हैं।
  • समितियों द्वारा संचालित इंजीनियरिंग कॉलेजों को सरकारी हाथों में दिया जा सकता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.