मुख्यमंत्री राजे के बांसवाड़ा दौरे का पहला दिन, जानिए यह 10 बातें

news of rajasthan

जनसंवाद के दौरान मंच पर मुख्यमंत्री राजे।

राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे बीते दिवस बांसवाड़ा जिले में पहुंची। यह उनका 4 दिवसीय दौरा है जिसमें राजे जनसंवाद करने के साथ कई लोकार्पण-शिलान्यास भी करेंगी। सोमवार को मुख्यमंत्री राजे का जिले में पहला दिन था। दौरे की शुरूआत उन्होंने जिले के सुदूर विधानसभा क्षेत्र कुशलगढ़ से की और यहां जनसंवाद भी किया। इस दौरान उनके साथ प्रभारी मंत्री सुशील कटारा, संसदीय सचिव भीमाभाई डामोर तथा सांसद मानशंकर निनामा सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे। दौरे का पहला मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के लिए कैसा रहा और यहां क्या-क्या घोषणाएं हुईं, आइए विस्तार से नजर डालते हैं इनपर…

news of rajasthan

  1. मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि राजस्थान देश का पहला ऐसा राज्य है जहां हम एक साथ पांच मेडिकल कॉलेज शुरू करने जा रहे हैं। प्रदेश के अस्पतालों में चिकित्सकों की कमी दूर करने के हमारे प्रयासों के सकारात्मक परिणाम आने लगे हैं। आने वाले समय में चिकित्सकों की कमी दूर हो जाएगी। डूंगरपुर में खुलने वाले मेडिकल कॉलेज का फायदा बांसवाड़ा, डूंगरपुर, प्रतापगढ़ जैसे जनजाति बहुल सीमावर्ती जिलों को विशेष रूप से होगा।
  2. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद हमारी सरकार पहली ऐसी सरकार रही है, जिसने प्रदेश के अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी दूर करने की दिशा में सार्थक प्रयास किए हैं। साथ ही, भामाशाह स्वास्थ्य बीमा जैसी क्रांतिकारी योजना से गरीब तबके को निजी अस्पतालों तक में बेहतरीन इलाज निशुल्क मिल रहा है।
  3. मुख्यमंत्री ने एवीवीएनएल के सहायक अभियंता कार्यालय भवन, सज्जनगढ़ तथा अधिशासी अभियन्ता कार्यालय भवन कुशलगढ़ का शिलान्यास तथा सज्जनगढ़ के तहसील कार्यालय भवन, उपखण्ड कार्यालय भवन और पुलिस थाना भवन का लोकार्पण किया।
  4. मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को सरपंचों की लिस्ट थमाई और कहा कि वे सरपंचों से मोबाइल पर बात कर इस क्षेत्र में हो रही विद्युत आपूर्ति का फीडबैक लें। अधिकारियों को हिदायत दी गई है कि किसानों को बिजली देने में कोई कोताही न बरतें।
  5. राजे ने कहा कि पिछले साढे़ चार साल में बांसवाड़ा जिले में 6 हजार 500 करोड़ रूपये के विकास कार्य किये गये हैं। अकेले कुशलगढ़ विधानसभा क्षेत्र में 2 हजार करोड़ रूपये के काम हुए हैं। जिले में 338 किलोमीटर सड़कों के विकास के साथ-साथ 26 ग्राम पंचायतों में गौरव पथ का निर्माण भी किया गया है। भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में जिले में 19 हजार लोगों को तथा राजश्री योजना में 9 हजार बेटियों को लाभान्वित किया गया है।
  6. मुख्यमंत्री ने राजस्थान रोडवेज के अधिकारियों को कुशलगढ़ के नजदीकी रेलवे स्टेशन थांदला (मध्यप्रदेश) तक जाने वाली रोडवेज बस सेवा को बहाल करने के निर्देश दिए हैं।
  7. राजे ने पुरामहत्व के मंगलेश्वर तीर्थ के विकास की योजना तैयार करने के अधिकारियों को निर्देश दिए हैं। साथ ही सज्जनगढ़ में नवसृजित उपकोष कार्यालय में उपकोष अधिकारी के रिक्त पद को भरने की मांग पर तुरन्त कार्यवाही करते हुए यहां अधिकारी का पदस्थापन करने के निर्देश दिए।
  8. मुख्यमंत्री ने मेधावी छात्राओं टीना डामोर, रीना डामोर, सोनम मईडा, रीना बारिया तथा अंजलि राठौड़ को टीएडी विभाग के माध्यम से स्कूटी की चाबियां सौंपी।
  9. शुभशक्ति योजना में ग्राम टिमेडा छोटा झीकली के मगन सिंह, ग्राम तलाईपाडा मुन्दडी के नारहिंग कटारा तथा ग्राम सज्जनगढ़ की लक्ष्मी देवी को स्वीकृति आदेश सौंपे। वहीं मृत्यु सहायता योजना में ग्राम परनाला के नाथूसिंह लबाना, ग्राम सारण के पीथा तथा ग्राम मुनीपाडा की हकरी को लाभान्वित किया। कृषि कूप ऊर्जीकरण योजना के अन्तर्गत ग्राम सूरजकुण्ड के मानसिंह, ग्राम खजूरा के पीथा, ग्राम पोटलिया के परबु, राजहींग, फैराडूंगरी के हीरा, गेरछाभाटडा के चन्दू कटारा तथा बडवास छोटी की मेमला को स्वीकृति आदेश प्रदान किए।
  10. राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत लाभार्थी मोहन का उदयपुर स्थित पैसेफिक मेडिकल कॉलेज में निशुल्क उपचार हुआ है और अब वह अपने पैरों पर चल सकता है। इसके लिए उसने मुख्यमंत्री राजे का आभार जताया। इसके बाद मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, राजश्री योजना, दिव्यांग पेंशन, पालनहार योजना, शुभशक्ति सहायता योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना, उज्जवला योजना सहित विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद किया।

read more: सबके चेहरे पर खुशी की चमक देखना चाहती है सरकार-मुख्यमंत्री

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.