cm-vasundhara-raje-at-help-center

राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे अपनी जनता की शिकायतों का निपटारा करने को लेकर प्रतिबद्ध नज़र आ रही है। इस बात का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि मुख्यमंत्री राजे आधी रात को संपर्क हेल्पलाइन सेंटर का औचक निरीक्षण करने के लिए पहुंच गई। बता दें कि सीएम सोमवार रात को संपर्क हेल्पलाइन और 181 कॉल सेंटर पहुंची थी। उन्होंने यहां दर्ज शिकायतों का अधिकारियों से ब्यौरा मांगा और शीघ्र समाधान के निर्देश दिए।

cm-vasundhara-raje-at-help-center

राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे अपनी जनता की शिकायतों का निपटारा करने को लेकर प्रतिबद्ध नज़र आ रही है।

शिकायतों का तत्काल समाधान किया जाए: सीएम वसुंधरा राज विकास की पांचवीं बैठक के बाद सचिवालय स्थित राजस्थान संपर्क पोर्टल एवं 181 कॉल सेंटर पहुंची थीं। मुख्यमंत्री राजे ने यहां संपर्क पोर्टल पर शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया और उनके निस्तारण की भी बारीकी जानी। राजे ने यहां कहा कि प्रदेश के आमलोगों की शिकायतों का शीघ्र समाधान किया जाए। उन्होंने कहा कि संपर्क पोर्टल पर आने वाली शिकायतों के निस्तारण की प्रक्रिया को अधिकारी पेचीदा बनाने की बजाय उन्हें हल करने पर ध्यान दें। राजे ने आगे कहा कि संपर्क पोर्टल पर दर्ज होने वाली शिकायतों को रिजेक्ट करने के बजाय उनके उचित समाधान की कोशिश की जाएं। शिकायतों के निस्तारण में मानवीयता के पहलू पर विशेष ध्यान दिया जाए।

दो माह पहले भी किया था औचक निरीक्षण: मुख्यमंत्री राजे के कॉल सेंटर में औचक निरीक्षण के समय उनके साथ आयोजना विभाग के प्रमुख शासन सचिव अखिल अरोड़ा समेत उच्च अधिकारी भी मौजूद रहे थे। इससे पहले सीएम राजे ने करीब दो महीने पहले अगस्त माह में भी हेल्पलाइन और कॉल सेंटर का औचक निरीक्षण किया था। मुख्यमंत्री ने उस समय जन समस्याओं के निपटारा के लिए शुरू किए गए राजस्थान संपर्क पोर्टल एवं कॉल सेंटर में एक घंटे से ज्यादा देर तक निस्तारण की प्रोसेस और टेक्निकल सपोर्ट को जाना था।

Read More: खासाकोठी प्रकरण में सीएम वसुंधरा राजे को सुप्रीम कोर्ट से मिली बड़ी राहत, विपक्ष को लगा झटका

LEAVE A REPLY