सीआईबीएमएस और स्मार्ट फेंसिंग के जरिए बढ़ेगी बॉर्डर की सुरक्षा: गृहमंत्री राजनाथ सिंह

केन्द्रीय गृह​मंत्री राजनाथ सिंह ने विजयादशमी के अवसर पर बीकानेर में भारत-पाक सीमा पर पहुंचकर बीएसएफ जवानों की हौसला अफजाई की व मनोबल बढ़ाया। गृहमंत्री सिंह ने बीकानेर के सीमावर्ती इलाकों के अपने दो दिवसीय दौरे के दूसरे दिन शुक्रवार को पश्चिमी कमान के सेक्टर मुख्यालय में सीमा सुरक्षा बल(बीएसएफ) के जवानों के साथ शस्त्र पूजन कार्यक्रम में हिस्सा लिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गृहमंत्री ने कहा कि सीमाओं की सुरक्षा में तकनीकी संसाधनों के इस्तेमाल पर जोर दिया जा रहा है ताकि हमारे जवानों को चौबीसों घंटे वहां खड़ा नहीं रहना पड़े। उन्होंने कहा कि सीमा सुरक्षा को और चुस्त-दुरुस्त बनाने तथा सीमा पर जवानों का तनाव कम करने के लिए सीआईबीएमएस को लागू किया जा रहा है। स्मार्ट फेंसिंग प्रोजेक्ट और सीआईबीएमएस जैसे कदमों के जरिए हम सुरक्षा बढ़ाना चाहते हैं ताकि जवानों को सीमा पर लगातार खड़ा नहीं रहना पड़ेगा।

news of rajasthan

Image: पश्चिमी कमान के सेक्टर मुख्यालय में बीएसएफ के शस्त्र-पूजन कार्यक्रम में गृहमंत्री राजनाथ सिंह.

जम्मू-कश्मीर और असम में सीमा सुरक्षा के लिए पायलट प्रोजेक्ट शुरू

केन्द्रीय गृह​मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में दस किलोमीटर और दूहरी (असम) में 60 किलोमीटर का पायलट प्रोजेक्ट शुरू हो चुका है। नवंबर माह में इसका एक और प्रोजेक्ट शुरू होगा जिससे देश की चारों तरफ की सभी सीमांए सुरक्षित रहेंगी। कश्मीर मुद्दे पर बातचीत संबंधी एक सवाल पर उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि कश्मीर में शांति कायम रहे। वहां विकास जरुरी है। इसके लिए हम सब मिलकर प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि खासतौर पर कश्मीर को बजट भी अधिक दिया जा रहा है। बीएसएफ के जवानों के शौर्य की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, ‘भारत के बीएसएफ जवानों से पाक रेंजर्स बहुत घबराते हैं।’ सिंह ने कहा कि उन्होंने बीएसएफ जवानों की कठिन परिश्रम को सीमाओं की सुरक्षा के साथ-साथ नक्सल व आतंकवाद प्रभावित इलाकों में उनके काम के जरिए देखा है। उन्होंने जवानों से कहा कि आपमें राष्ट्रीय स्वाभिमान की भावना है जो आपको हमेशा प्रेरित करती है।

Read More: मानवेंद्र सिंह के जाने से विधानसभा चुनाव में कोई फर्क नहीं पड़ेगा: भारतीय जनता पार्टी

मनुष्य के जीवन में चरित्र का होता है बड़ा महत्व

गृहमंत्री सिंह ने दशहरा पर्व का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि रावण, राम से ज्यादा धनवान और बलवान था क्योंकि रावण ने मृत्यु को जीत लिया था। लेकिन फिर भी रावण की हार हुई क्योंकि अंतर मर्यादा का था। इसलिए मनुष्य के जीवन में चरित्र का महत्व बड़ा होता है। इससे पहले गुरुवार रात गृहमंत्री ने सीमा सुरक्षा बल के अधिकारियों के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा पर सुरक्षा की स्थिति पर चर्चा की। इसके बाद सीमा सुरक्षा बल परिसर में जवान आवास व रसोईघर का भ्रमण किया और वहां मौजूद जवानों से मिल रही सुविधाओं व आ रही समस्याओं पर बातचीत की। राजनाथ सिंह ने सीमा सुरक्षा बल के परिसर में रह रहे सीमा प्रहरियों के आवास परिसर का भी भ्रमण किया। इसके बाद गृहमंत्री सिंह रात को सेक्टर मुख्यालय बीकानेर में आयोजित बड़े खाने में शामिल हुए थे।

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.