news of rajasthan
Image: बीजेपी राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी.

प्रदेश में हुए हालिया विधानसभा चुनाव भले ही भाजपा के पक्ष में ना रहे हो लेकिन आगामी लोकसभा चुनाव में पार्टी जीत के लिए कमर कस चुकी है। विधानसभा चुनाव के करीब 2 माह बाद अब राजस्थान भाजपा में एक नया जोश दिख रहा है। संगठन के पदाधिकारी से लेकर कार्यकर्ता आगामी चुनाव में बड़े अंतर से जीतने का दावा कर रहे हैं। इसके लिए प्रदेश भाजपा संगठन को और मज़बूत करने का काम कर रही है। अपनी चुनावी रणनीति के तहत हाल ही में भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश में 15 से अधिक जिला अध्यक्ष बदले हैं। पार्टी के बड़े नेता इन दिनों आम चुनाव की तैयारी में जिलेवार बैठक ले रहे हैं। मंगलवार को पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी दौसा पहुंचे। इस दौरान उन्होंने श्याम सरोवर में पार्टी की एक बैठक ली।

लोकसभा चुनाव में भाजपा इस बार फिर सभी 25 सीटें जीतेंगी

भाजपा पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के बाद राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि जनता के सहयोग, कार्यकर्ताओं का मनोयोग, संगठन की गतिशीलता व पीएम नरेन्द्र मोदी की लोकप्रियता से 2019 में एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि राजस्थान विधानसभा चुनाव में पार्टी को मामूली सीटों से हार मिली है, लेकिन उन्हें विश्वास है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा सभी 25 सीटें जीतेगी। त्रिवेदी ने कहा कि आगामी चुनाव में प्रत्याशियों के चयन के लिए प्रदेश स्तरीय और राष्ट्रीय स्तरीय चयन समिति मिलकर निर्णय लेगी। गौरतलब है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने राजस्थान की सभी 25 सीटों पर ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी।

जल्द ही शुरू होगा ‘भारत के मन की बात मोदी के साथ’ कार्यक्रम

दौसा में मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि ‘भारत के मन की बात मोदी के साथ’ कार्यक्रम जल्द ही शुरू किया जाएगा। इस कार्यक्रम के तहत देश की चार हजार विधानसभा सीटों के कार्यकर्ताओं से फीडबैक लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इसी फीडबैक के आधार पर भारतीय जनता पार्टी अपना संकल्प पत्र तैयार करेगी। त्रिवेदी ने कहा कि इस कार्यक्रम के तहत विभिन्न मुद्दों और विषयों के बारे में उम्मीदवारों का फीडबैक लिया जाएगा। इस बैठक में मंडल स्तर से लेकर जिला स्तर के भाजपा पदाधिकारियों के साथ ही संगठन के पूर्व पदाधिकारी और वरिष्ठ कार्यकर्ता भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY