कॉमनवेल्थ गेम्स: राजस्थान की अपूर्वी चंदेला ने जीता कांस्य पदक, मुख्यमंत्री ने दी बधाई

news of rajasthan

जयपुर की अपूर्वी चंदेला

राजस्थान की राजधानी जयपुर की निशानेबाज अपूर्वी चंदेला ने कॉमनवेल्थ गेम्स में कांस्य पदक जीता है। यह कॉमनवेल्थ गेम्स में यह भारत का 16वां और राजस्थान की ओर से पहला पदक है। इसे मिलाकर भारत की झोली में कुछ 17 पदक हो गए हैं। अपूर्वी ने यह पदक एयर राइफल राइफल शूटिंग में जीता है। खबर आते ही अपूर्वी के घर मिठाई बांटी गई। राजस्थान की बेटी के पदक जीतने पर मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे सहित अशोक गहलोत, सचिन पायलेट और खेल एवं सूचना प्रसारण मंत्री राज्यवर्धन सिंह ने टविट कर बधाई दी है।

इसी स्पर्धा में भारत की मेहुली घोष ने सिल्वर पदक जीता है। इससे पहले अपूर्वी चंदेला 2012 में सीनियर नेशनल में स्वर्ण, 2014 विश्व कप में रजत, 2015 विश्व कप में कांस्य और 2016 स्वीडन ग्रांप्री में दो स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं।

उनके के पिता का कहना है कि जब वह अपूर्वी को जयपुर की शूटिंग रेंज लेकर गए तो उनकी पहली पसंद पिस्टल शूटिंग थी लेकिन अपूर्वी को राइफल शूटिंग पसंद आई और इसी दम पर उसने स्वीडन में विश्व रिकॉर्ड बना दिया। बेटी का शूटिंग के प्रति इंटरेस्ट देख अपूर्वी के पिता ने घर में ही 10 मीटर राइफल प्रैक्टिस करने के लिए घर के कमरे में एक छोटा शूटिंग रेंज बनवा दिया।

अपूर्वी को खिलाड़ियों की ऑटोबायोग्राफी पढ़ने का शौक है। इन दिनों वह माइकल फेल्प्स की ऑटोबायोग्राफी पढ़ रही हैं। सचिन तेंडुलकर, अभिनव बिंद्रा सहित कई खिलाड़ियों की ऑटोबायोग्राफी भी पढ़ चुकी है।

read more: महिपाल लोमरोर-राजस्थान रॉयल्स टीम में शामिल एकमात्र राजस्थानी क्रिकेटर

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.