कृषि मंत्री ने सभी विधायकों को भेजे ऑलिव-टी के पैकेट, स्वाद के फीडबैक देने को कहा

news of rajasthan

ऑलिव-टी

राजस्थान की आॅलिव-टी (जैतून से बनी चाय) और उसके स्वाद को बढ़ावा देने के लिए कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने प्रदेश के सभी विधायकों एवं मंत्रियों से ऑलिव-टी पीने का आग्रह किया है। यही नहीं, सैनी ने सभी विधायकों को ऑलिव-टी के पैकेट भी भिजवाए हैं ताकि सभी इसका स्वाद चख सकें। कृषि मंत्री ने सभी विधायकों से इस चाय का टेस्ट करने के उपरांत फीडबैक देने का भी अनुरोध किया है। इस संबंध में कृषि मंत्रालय की ओर से प्रदेश के सभी विधायकों को एक पत्र लिखा है जिसमें ऑलिव-टी के फायदे बताए गए हैं। भाजपा के साथ ही दूसरी पार्टियों और निर्दलीय विधायकों को भी ऑलिव-टी पैकेट भिजवाए गए हैं और उनसे इस संबंध में पूछा गया है।

विधायकों को भेजे गए डीओ लेटर में बताया गया है कि राजस्थान की धरती पर पहली बार ऑलिव-टी पत्तियों की खेती की जा रही है। इस ऑलिव-टी में सामान्य ग्रीन-टी के मुकाबले चार गुना तक एंटी ऑक्सीडेंट हैं। साथ ही यह एंटी इन्फ्लेमेट्री और एंटी कैंसर भी है।

बता दें कि हाल ही में जब इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू भारत दौरे पर आए थे, उन्होंने यहां आॅलिव-टी की जमकर तारीफ की थी। साथ ही इजराइल के इसे बनाने की प्रक्रिया को सीखने में इच्छा भी जाहिर थी। यह तकनीक इजराइल से ही भारत में लाई गई है। राजस्थान के जयपुर शहर में ऑलिव-टी की खेती कर चाय बनाई जाती है। देश में आॅलिव-टी का यह पहला और इकलौता प्लांट है।

Read more: इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को भाया राजस्थान की आॅलिव टी का स्वाद

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.